REWA : संक्रमितों की सेवा करते-करते पॉजिटिव हुआ किसान; इलाज पर अब तक 2 करोड़ हो चुके खर्च , 95% फेफड़े हुए खराब : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर मांगी मदद

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


रीवा जिले का एक किसान कोरोना की चपेट में आने के बाद साढ़े तीन माह से जिंदगी की जंग लड़ रहा है। रीवा से परिजन एयर एंबुलेंस से चेन्नई ले गए, जहां वे इकमो मशीन के सहारे सांस ले रहे हैं। परिजन के मुताबिक इलाज पर अब तक 2 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। अभी इतना ही और खर्च डॉक्टर बता रहे हैं।

'सूत्र सेवा योजना' की बसों की खरीदारी करने वाले संचालक के साथ 1.30 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी : 7 बसों का पैसा लेकर दे दी सिर्फ 4 बसें : FIR दर्ज

जिंदगी बचाने के लिए, परिजन हर प्रयास कर रहे हैं। बेटे ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर मदद मांगी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान से भी गुहार लगाई गई है। किसान के बेटे ने मांग की है कि इलाज की राशि में 50% छूट दिलाई जाए।

लग्जरी कार से कोरेक्स की तस्करी करते दो आरोपी पकड़ाए : तलाशी में 66 हजार रुपए की 600 सीसी नशीली कफ सिरप बरामद : NDPS एक्ट का मामला दर्ज

रीवा जिले के रकरी गांव के धर्मजय सिंह (49) प्रगतिशील किसान हैं। खेती-किसानी के साथ ही वे सामाजिक कार्यों में हमेशा आगे रहते हैं। कोरोना काल में उन्होंने हर तरह लोगों की मदद की। लोगों की सेवा के दौरान ही उनकी तबीयत बिगड़ी और 30 अप्रैल को रीवा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। कोरोना के लक्षण होने पर जांच कराई। 2 मई को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी।

प्रापर्टी डीलर की हत्या का मामला : नाबालिग लड़कों का इस्तेमाल करके रीवा में हो रही सुपारी किलिंग : पांच नाबालिग हुए गिरफ्तार

एयर एंबुलेंस से चेन्नई भेजा गया

जांच में पता चला कि 95 प्रतिशत फेफड़ा संक्रमित हो गया है। इसके चलते उन्हें 18 मई को एयर एंबुलेंस से इकमो मशीन की सहायता से चेन्नई तमिलनाडु के अपोलो (मेन) हास्पिटल में एडमिट कराया गया। जहां इकमो मशीन से उन्हें कृत्रिम श्वांस दी जा रही है।

लापता युवकों की निर्मम हत्या : एक-एक करके शव मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी : एसपी, एडिशनल एसपी ने घटनास्थल पर किया मुआयना

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखा बेटे ने पत्र

धर्मजय के पुत्र नृपेंद्र ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर बताया है कि चिकित्सकों ने फेफड़े के प्रत्यारोपण का प्रस्ताव किया है। अब तक 2 करोड़ से अधिक की राशि खर्च हो चुकी है। परिवार और रिश्तेदारों की मदद से किसी तरह व्यवस्था बनाई गई, लेकिन अब रुपए नहीं हैं। बेटे ने मांग की है कि हास्पिटल प्रबंधन से इलाज की राशि में 50 प्रतिशत की छूट दिलाई जाए, धर्मजय के इलाज के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी गुहार लगाई गई है।

छत्तीसगढ़ से रीवा आ रहा गांजा पुलिस ने पकड़ा : 20 किलो गांजा के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार : NDPS एक्ट के तहत हुई कार्यवाही

26 जनवरी को सीएम ने किया था सम्मानित

धर्मजय सिंह को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसी वर्ष 26 जनवरी को रीवा के एसएएफ ग्राउंड में गणतंत्र दिवस समारोह में सम्मानित किया था। गौरतलब है कि धर्मजय ने खेती-किसानी में विशिष्ट पहचान बनाई है। उन्होंने अपने खेतों में स्ट्राबेरी तैयार किया है। गुलाब की खेती भी व्यापक स्तर पर शुरू की जिसके चलते उन्हें सम्मानित किया गया।

Powered by Blogger.