REWA : रीवा दोहरा हत्याकांड : 6 दोस्तों ने मिलकर की थी हत्या, SP ने किया खुलासा, बहन पर रखते थे बुरी नजर

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में एक सप्ताह पहले हुए दोहरे हत्याकांड का बुधवार को एसपी राकेश सिंह ने खुलासा कर दिया है। एसपी ने कहा कि 6 दोस्तों ने मिलकर दो अपने ही साथियों की हत्या कर दी थी। जांच में हत्या की मुख्य तीन वजह सामने आई है। पहला मैकेनिक को नहीं देते थे बाइक बनवाने का पैसा, दूसरा खुद चोरी कर फंसा देते थे साथियों को, तीसरा बहन पर रखते थे बुरी नजर।

अधिकारी ले रहे मलाई, जनता लगा रही गुहार : समस्या से निजात पाने खटखटा रहे दरवाजे तभी भी मिली निराशा : 20 साल से झेल रहे समस्या

ऐसे में थक हारकर आरोपीगण तीन बाइकों से 8 लोग सवार होकर पार्टी करने रायपुर कर्चुलियान थाना अंतर्गत बुड़वा पहाड़ी पर पहुंचे। जहां पर आठों दोस्तों ने देशी शराब, गांजा आदि का नशा किया। जब शमशेर उर्फ गुलाम मुस्तफा टल्ली हो गया तो पत्थर से पटकर उसकी हत्या कर दी।

युवाओं को रास आ रहा देशी- विदेशी सुट्टा, सुट्टा लेते ही उत्तेजित हो जाते हैं युवा ; सड़कों पर दिखती है फिल्मी अंदाज में मारपीट

लेकिन घर से बाइक में साथ आया दोस्त मकसूद खान जिंदा था। ऐसे में हत्या की बात बता देने की वजह से उसको मारे। फिर 15 किमी. दूर ले जाकर रोर रोड में दोबारा नशा किए। जब मकसूद खान पर नशा बड़ा तो राड से हमला करते हुए पत्थर पटकर हत्या कर दी।

पहले मृतक की बाद में मिली लाश

एसपी ने बताया कि शमशेर पिता लाल मोहम्मद (27) निवासी निपनिया की हत्या 23 अगस्त की रात पहले हो गई। जबकि उसका शव 26 अगस्त को बरामद हुआ था। वहीं मकसूद अली पिता मंजूर अली (35) निवासी निपनिया की हत्या 23 अगस्त को शमशेर की हत्या से दो घंटे बाद हुई थी। लेकिन उसका शव 24 अगस्त की सुबह ही मिल गया था। 24 अगस्त को संतोष कुमार साकेत पिता छकौड़ीलाल की शिकायत व 26 अगस्त को फरियादी सुरेन्द्र पटेल पिता रामप्रकाश निवासी बुड़वा की सूचना पर अपराध क्रमांक 311/21, 315/21 धारा 302,201 का प्रकरण दर्ज किया था।

शमशेर के साथ बाइक में बैठकर आने से हुई मकसूद की हत्या

रायपुर कर्चुलियान थाना प्रभारी मृगेन्द्र सिंह की मानें तो आरोपी सुनील और कमलेश पेश से मैकेनिक है। ऐसे में शमशेर बाइक बनवाने के बाद सुनील और कमलेश पैसा नहीं देता था। साथ ही बार बार चोरी के मामलों में फंसा देता था। वहीं अक्सर सुनील की बहन को शमशेर द्वारा गलत टिप्पणी की जाती थी। ऐसे में दोनों मृतकों का कमलेश और सुनील से मनमुटाव चल रहा था। लेकिन 22 अगस्त को पार्टी की दावत सिर्फ शमशेर को मिली थी। ऐसे में शमशेर मकसूद अली को भी साथ लेकर चला गया। जिससे वह भी हत्या का शिकार हो गया।

ये आरोपी गिरफ्तार

रायपुर कर्चुलियान पुलिस ने हत्या के आरोप में प्रदीप उर्फ दीपक साकेत पिता मोतीलाल 24 वर्ष निवासी पोखरी टोला थाना समान, कमलेश साकेत पिता मुन्नालाल 25 वर्ष निवासी पोखरी टोला थाना समान, फरदीन खान पिता फारूख 18 वर्ष निवासी निवासी पोखरी टोला थाना समान, दशराज साकेत पिता अशोक 18 वर्ष निवासी निपनिया थाना सिटी कोतवाली, सुनील निसाद पिता अमरनाथ 25 वर्ष निवासी निपनिया थाना सिटी कोतवाली और शिवम सिंह बहेलिया उर्फ आशू पिता संतोष 25 वर्ष निवासी निपनिया को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Powered by Blogger.