REWA : टोल बचाने के चक्कर में हर्दी मोड से मनगवां की ओर जाने वाले गिट्टी से भरे OVER लोड दो ट्रकों को पुलिस ने किया जप्त

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


रीवा। नवागत एसपी नवनीत भसीन का एक्शन शहर के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में भी दिखने लगा है। आलम है कि बीती रात टोल बचाने के चक्कर में हर्दी मोड से मनगवां की ओर जाने वाले गिट्टी से लोड दो ट्रकों को बैकुंठपुर पुलिस ने चेकिंग लगाकर नेबूहा मोड के पास से पकड़ा है। ​पुलिस ने जब गिट्टी परिवहन के दस्ताबेज मांगे तो चालक के पास कोई कागज नहीं मिले। ऐसे में आईपीसी की धारा 379 के तहत जब्ती बनाते हुए खनिज विभाग को अग्रिम कार्रवाई के लिए सौंप दिया गया है।

पापा के बिगड़े नवाब गिरफ्तार : लग्जरी THAR जीप में लोडेड पिस्टल के साथ दिखाने जा रहें थे टशन : 32 बोर के दो पिस्टल और कारतूस साथ दो आरोपी पकड़ाए

बैकुंठपुर थाना प्रभारी राजकुमार मिश्रा ने बताया कि लगातार मुखबिर से सूचना मिल रही थी कि बेला क्रशर से कई ट्रक इन दिनों गिट्टी लोड कर यूपी की ओर जाते है। लेकिन टोल और पुलिस से बचने के लिए खनिज कारोबारी रीवा बाईपास से ट्रक उताकर ​सिरमौर रोड होते हुए बैकुंठपुर कस्बे के पहले हर्दी मोड से मनगवां होते हुए यूपी की ओर निकल जाते थे।

रीवा जोन के नवागत IG एवं एडीजीपी केपी वेंकटेश्वर राव ने कार्यालय पहुंचकर किया पदभार ग्रहण : SP नवनीत भसीन ने पुष्पगुच्छ देकर किया स्वागत

ऐसे में मंगलवार की रात करीब 11.30 बजे से 1 बजे के बीच चेकिंग लगाई गई। तभी 20 एमएम गिट्टी से लोड ट्रक क्रमांक यूपी 70 एसटी 2679 और एमपी 20 एसवी 5544 को रोका गया। चालक से जब परिवहन संबंधी टीपी और पिटपास मांगा गया तो उनके पास कुछ नहीं था। ऐसे में चोरी छिपे खनिज परिवहन को अपराध की श्रेणी में मानते हुए धारा 379 की कार्रवाई की गई।

पदभार संभालते ही एक्शन में दिखे SP : डीएसपी रैंक के अधिकारियों व थाना प्रभारियों की क्लास लेते बोले, मुझे हर हाल में बेहतर ​पुलिसिंग चाहिए , ये आप तय करें, कैसे काम करना है

खनिज विभाग को सौंपा गया प्रतिवेदन

पुलिस ने बताया कि एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश खनिज चोरी कर गिट्टी ले जा रहे दोनों ट्रकों की जब्ती बनाकर थाने में खड़ा करा दिया गया है। साथ ही आगे की कार्रवाई के लिए खनिज विभाग को मामला सौंप दिया गया है। जो खनिज चोरी की पैनाल्टी लगाते हुए वाहन मालिक को जुर्माना की रसीद देंगे। फिर कोर्ट में केस डायरी पेश कर वाहन चालक व मालिक को तलब किया जाएगा। तब जब्त ट्रक थाने से बाहर जाएंगे।

Powered by Blogger.