MP : साहब हमें तो बख्श देते : 11 साल तक बाबू को पानी पिलाया उसी प्यून से बाबू ने मांगी 15 हज़ार की घूस

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

बड़वानी में गुरुवार को दो रिश्वतखोर पकड़ाए। NVDA के स्थापना शाखा के बाबू को आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो इंदौर (EOW) ने पेंशन और GPF निकालने के लिए 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा। आरोपी ने अपने ही ऑफिस के उस प्यून से रुपए मांगे थे, जिसने उसे 11 साल तक पानी पिलाया। वहीं, जमीन की रजिस्ट्री के लिए 1500 रुपए की रिश्वत लेते हुए डिप्टी रजिस्ट्रार को इंदौर लोकायुक्त की टीम ने पकड़ा।

MP हो या देश, ऐसा कौन सा अधिकारी है जो रिश्वत नहीं लेता, पता चलने पर मैं तो रिश्वत के रुपए वापस भी करवाती हूं : MLA रामबाई

सनावद स्थित NVDA के मंडल- 1 के बाबू जालिम सिंह बैसारे के ऑफिस में कुछ दिनों पहले तक भंवरसिंह रावल प्यून था। पेंशन और GPF के रुपए निकालने के नाम पर बाबू ने उससे 15 हजार रुपए मांगे। प्यून ने EOW में इसकी शिकायत कर दी। भंवरलाल 30 जुलाई को रिटायर हुआ था। आरोप है कि पेंशन और GPF के करीब 3 लाख रुपए निकालने के लिए बाबू जालिम सिंह बैसारे ने 15 हजार रुपए मांगे। साथ ही कुल राशि में 70 हजार रुपए बढ़ाने की बात भी कही। रुपए नहीं देने पर देरी की जा रही थी।

600 वर्गफीट जमीन की रजिस्ट्री के लिए मांगे 1500 रुपए

गुरुवार को उप रजिस्ट्री कार्यालय में लोकायुक्त ने उप पंजीयक मणिशंकर वर्मा को 600 वर्गफीट की जमीन की रजिस्ट्री करने के लिए 1500 रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा। लोकायुक्त इंदौर डीएसपी रामकुमार सराफ ने बताया कि आकाश बिरला ने 22 सितंबर को शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि जमुना विला में 600 वर्गफीट के भुखंड की रजिस्ट्री सनावद में कराई है। इसके लिए उप पंजीयक मणिशंकर वर्मा रिश्वत के लिए 1500 रुपए मांग रहे हैं। इस पर 23 सितंबर को एक कर्मचारी को उनके साथ सनावद के रजिस्ट्री कार्यालय भेजा। जहां रिश्वत लेना की बात पाई गई। जिस पर गुरुवार को कार्रवाई की गई। रिश्वत लेने के बाद उन्हें सनावद थाने लाया गया। जहां पर कार्रवाई करने के बाद मुचलके पर छोड़ा गया।

                        उप पंजीयक मणिशंकर वर्मा रिश्वत के लिए 1500 रुपए मांग रहे थे।

आकाश ने बताया कि रजिस्ट्री के लिए जब गया तो उप पंजीयक ने कैल्कुलेटर पर 2 हजार रुपए लिखकर देने को कहा। इस पर मैंने कहा- दुकानदार ने 1500 रुपए देने की बात कही है। इस पर उन्होंने कहा 1500 रुपए ही दे देना। रिश्वत मांगने को लेकर लोकायुक्त में कार्रवाई की गई।
Powered by Blogger.