REWA : युवक के मोबाइल में आया फोन ; घायल युवक के मौत की दे डाली झूठी खबर, दशहत में आते ही आरोपी ने किया सुसाइड

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले के चोरहटा थाना अंतर्गत खोभर गांव में एक आरोपी ने सुसाइड कर लिया है। बीती रात आरोपी युवक के मोबाइल में किसी का फोन आया था। उसने मारपीट के एक मामले में घायल युवक के मौत की झूठी खबर दी। ऐसे में मारपीट का मामला हत्या में कन्वर्ट होने से डर से उसने सुसाइड कर लिया। फांसी लगाकर आत्महत्या किए जाने की जानकारी मिलने पर पुलिस ने मौके पर जाकर पंचनामा कार्रवाई कर शव को पीएम के लिए संजय गांधी अस्पताल भेजा है।

रंग लाया पुलिस का मुस्कान अभियान : 281 गुमे बच्चों में से 216 किए बरामद : 65 नाबालिग अब भी लापता, सबसे ज्यादा लापता हुए बच्चों में रीवा भी शामिल

मिली जानकारी के मुताबिक अमित कोल निवासी खोभर ने रविवार की सुबह फांसी का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। ऐसे में अमित के मौत की सूचना थाना पुलिस को दी गई। सूत्रों की मानें तो अमित कोल के खिलाफ दो दिन पूर्व चोरहटा थाने में मारपीट का अपराध दर्ज हुआ था। तब पीड़ित पक्ष ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उस पर चाकू से प्रहार किया गया है। अपराध दर्ज होने की वजह से अमित गांव में छिपता फिर रहा था।

संजय गांधी हॉस्पिटल की लिफ्ट में मानव कंकाल मिलने के बाद हड़कंप तो वृद्ध ने लगाई फांसी, रेलवे ट्रैक पर मिला महिला का शव

रात में आया फोन, सुबह फंदे में मिला शव

खोभर के ग्रामीणों ने बताया कि बीती रात किसी व्यक्ति ने अमित को फोन कर यह जानकारी दी कि घायल ने दम तोड़ दिया है। माना जा रहा है कि इस बात से वह दशहत में आ गया। क्योंकि मारपीट का मामला हत्या जैसे गंभीर अपराध में बदलने से वह डर गया। इसी बात को लेकर आधी रात फांसी के फंदे में झुलकर सुसाइड कर लिया।

अवैध रूप से संचालित हो रहे पेट्रोल पंप को प्रशासन ने कराया सील : 2012 में लीज खत्म होने के बाद भी चल रहा था कल्याण पेट्रोल पंप

चाकू मारने की बात पूरी तरह झूठी

संजय कोल ने दावा किया कि दो दिन पूर्व अमित के साथ कुछ लोगों द्वारा मारपीट की जा रही थी। इसी दौरान ठेले में लगी कील एक व्यक्ति को लग गई। चाकू मारने की बात पूरी तरह झूठी है। बीती रात किसी व्यक्ति ने भाई को यह बताया कि घायल युवक की मौत हो गई है। इसके बाद उसने फांसी लगा ली। मृतक के बड़े भाई ने मांग की है कि जिसने भी घायल युवक के मौत की जानकारी दी है, उस पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

Powered by Blogger.