MP : सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में छात्रों को एडमिशन देने का एक और मौका : अब 21 अक्टूबर से एडमिशन शुरू, 30 अक्टूबर तक भर सकेंगे फॉर्म

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

मध्यप्रदेश के 1 हजार 301 सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में छात्रों को एडमिशन दिए जाने का एक और मौका देने का निर्णय शासन ने लिया है। एडमिशन लेने से चूके छात्र अब 21 अक्टूबर से एडमिशन ले सकते हैं। इस साल साढ़े 10 लाख सीटें हैं। छात्र इसके लिए 30 अक्टूबर तक फॉर्म भर सकेंगे। उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे बढ़ाने का निर्णय लिया है।

अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए छुट्टी का पखवाड़ा शुरू : छात्र और टीचर्स को भी रहेगी मौज, इन दिनों रहेगी छुट्टी की भरमार

उन्होंने बताया कि इस शिक्षण सत्र में अब तक 6 लाख 31 हजार छात्र-छात्राएं प्रवेश ले चुके हैं। इसमें 75% एडमिशन सरकारी कॉलेजों में हुए हैं। पिछले शैक्षणिक सत्र में 5.64 लाख छात्र छात्राओं ने एडमिशन लिया था। इस वर्ष यूजी एवं पीजी में 7.78 लाख विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया था। मंत्री यादव ने कहा कि अभी तक 7 लाख से ज्यादा विद्यार्थियों का सत्यापन हो चुका है।

त्योहार के अवसर पर बुक कराई टिकट की तारीख बदलवा रहे हैं तो पढ़ लीजिए ये जरूरी खबर...

प्रदेश में जीईआर बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। यह प्रसन्नता का विषय है कि इस वर्ष रिकॉर्ड 6 लाख विद्यार्थियों का एडमिशन हो चुका है। लगभग 1 लाख विद्यार्थी वेटिंग लिस्ट में है। इससे पहले विभाग ने फीस जमा करने की तिथि को 10 अक्टूबर से बढ़ाकर 14 अक्टूबर कर दिया है।

अब छात्रों को एक और मौका दिया जा रहा है। हमारी कोशिश रहेगी कि हर विद्यार्थी को अपनी पसंद के विषय अनुसार प्रवेश मिले, सभी को एडमिशन दिए जाएंगे। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति में विद्यार्थी अपने रुझान के अनुरूप विषयों का चुनाव कर सकेंगे।

Powered by Blogger.