रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला : अप-डाउन करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी, जनरल टिकट वाला सिस्टम खत्म : पढ़िए यह काम की खबर

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


कोरोना की वजह से रेगुलर ट्रेनों पर रोक लगा दी गई थी. इसकी जगह स्पेशल ट्रेने चलाई जा रही थीं. लेकिन अब क्योंकि कोरोना भी काबू में है और स्थिति भी काफी सुधर चुकी है, ऐसे में रेल मंत्रालय ने बड़ा फैसला लेते हुए फिर रेगुलर ट्रेनों को शुरू कर दिया है. जानकारी दी गई है कि कुछ दिनों के अंदर ही 1700 से अधिक ट्रेनें, रेगुलर ट्रेनों के तौर पर रिस्टोर कर दी जाएंगी.

शादियों का सीजन शुरू : शादी के लिए लहंगा खरीदने जा रही हैं तो 6 बड़ी गलतियां करने से बचें ...

फिर चलनी शुरू होंगी रेगुलर ट्रेन

जारी सर्कुलर में ये भी स्पष्ट कर दिया गया है अब फिर प्री कोविड वाले रेट लागू कर दिए गए हैं. मतलब अभी तक जो स्पेशल किराया दिया जा रहा था, अब वो बदल जाएगा और फिर रेगुलर किराया देना होगा. इस सब के अलावा अब जनरल टिकट वाला सिस्टम भी खत्म होने जा रहा है. कहा गया है कि अब सिर्फ रिजर्व और वेटिंग टिकल वालों को ही यात्र करने की अनुमति रहेगी. जनरल क्लॉस वाली टिकट मौजूद नहीं रहने वाली है. इस बात पर भी जोर दिया गया है कि पहले से बुक हो चुकीं ट्रेन टिकट पर एक्स्ट्रा किराया नहीं वसूला जाएगा, वहीं कोई पैसा वापस भी नहीं होगा.

नौ महीने में शादी के 50 मुहूर्त : अब जुलाई तक हर महीने बजेगी शहनाई मार्च में 2, जनवरी में सबसे ज्यादा 8 मुहूर्त

कोरोना काल में हुआ था परिवर्तन

अब इतने परिवर्तन जरूर किए जा रहे हैं लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का पालन जारी रहने वाला है. हर नियम का सख्ती से पालन जरूरी है और नियम टूटने पर एक्शन भी होगा. जानकारी के लिए बता दें कि 25 मार्च,2020 को ट्रेन सर्विस को अस्थायी तौर पर रोक दिया गया था. 166 साल में ऐसा पहली बार हुआ था जब ट्रेन का परिचालन रुक गया था. लेकिन बाद में माल गाड़ी और फिर श्रमिक ट्रेनों को चलने की अनुमति दे दी गई थी. फिर बाद में स्पेशल ट्रेन चलाने का दौर शुरू हुआ और रेगुलर ट्रेनों के नंबर में बदलाव कर दिए गए. लेकिन अब फिर प्री कोविड वाली स्थिति लौट चुकी है. स्पेशल ट्रेन का दौर भी खत्म कर दिया गया है और किराया भी पुराना वाला ही देना पड़ेगा.

Powered by Blogger.