REWA : रीवा में टीचर ने शिक्षा विभाग के शासकीय ग्रुप में भेजा अश्लील वीडियो : 28 विद्यालयों के जुड़े थे 180 स्टूडेंट्स और 65 महिला टीचर : मचा हड़कंप

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा में क्लास पांचवीं के स्टूडेंट्स के ग्रुप में एक टीचर ने ही अश्लील वीडियो का लिंक भेज दिया। कुछ अभिभावकों और टीचर ने जब लिंक क्लिक किया तो पोर्न वीडियो शुरू हो गए। इस पर टीचर और अभिभावकों ने कड़ी आपत्ति जताई। घटना दो दिन पुरानी है। इस मामले में सोमवार को टीचर की शिकायत डीपीसी से की गई है। इस ग्रुप से 28 स्कूलों के 180 छात्र-छात्राएं और 65 महिला शिक्षक भी जुड़ी हुई हैं।

शैलू शर्मा से क्यो बात करना चाहते है हास्य कलाकार अविनाश तिवारी? लड़की को लैंडमार्क होटल के पास बुलाकर की अश्लीलता : महिला थाने पहुँची युवती

वीडियो की लिंक 20 नवंबर को सुबह 11.44 बजे भेजी गई थी। यह वॉट्सऐप ग्रुप राज्य शिक्षा केंद्र के 'डीजीलेप' है। टीचर का नाम कृपाशंकर चतुर्वेदी है। वह शासकीय प्राथमिक पाठशाला मैदानी हरिजन बस्ती में तैनात हैं। बताया जा रहा है कि जिस समय वीडियो लिंक डाला गया था। वह समय बच्चों के पढ़ाने का होता है। ऐसे में प्रतीत होता है कि स्कूल समय में ही शिक्षक अश्लील वीडियो देखते रहे होंगे।

उनके ही स्कूल के 30 बच्चे और अभिभावक ग्रुप में जुड़े

चर्चा है कि अश्लील वीडियो जिस ग्रुप में डाला गया है। उस वॉट्सऐप ग्रुप में आरोपी शिक्षक के स्कूल के ही 30 बच्चे और अभिभावक जुड़े है। रीवा जनपद क्षेत्र के 28 विद्यालयों के 180 छात्र-छात्राओं को भी उसी ग्रुप में जोड़ा गया है। साथ ही ब्लॉक की विभिन्न स्कूलों की 65 महिला शिक्षक का ग्रुप में हैं, लेकिन पोर्न वीडियो का लिंक डालने के बाद सभी ग्रुप से बाहर हो गईं।

टीचर ने कहा- मुझे पावर का चश्मा लगा है, भूलवश हाथ लग गया होगा

आरोपी शिक्षक कृपाशंकर चतुर्वेदी ने सोशल मीडिया में सफाई देते हुए कहा कि मैं इसके लिए शर्मिंदा हूं। सार्वजनिक रूप से माफी मांगता हूं। मुझे पावर का चश्मा लगता है। भूलवश हाथ लग गया होगा। जिंदगी में इस तरह की गलती नहीं होगी। हमको खुद दूसरों के माध्यम से पता चला है। ऐसे में एक बार हमारी भूल को माफ करें। दोबारा गलती नहीं करूंगा।

...तो दोषी शिक्षक पर होगी कार्रवाई

प्रभारी बीआरसी राजेन्द्र यादव ने सरकारी व्हाट्सएप ग्रुप 'डीजीलेप' में पोर्न सामग्री डालने की घटना की निंदा की है। कहा है कि शिक्षक कृपाशंकर चतुर्वेदी के विरूद्ध शिकायत मिली है। इस शिकायत को जांच और कार्रवाई के लिए डीपीसी कार्यालय को भेजा है। वहीं डीपीसी संजय सक्सेना ने कहा कि मैं अभी मुख्यालय से बाहर हूं। जानकारी आई है। मामले का पत्र कार्यालय को भेजा है। देखने के बाद आगे की कार्रवाइ की जाएगी।

Powered by Blogger.