REWA : खबर का का असर : एक्शन में आये कलेक्टर इलैया राजा टी; अश्लील वीडियो डालने वाले शिक्षक को किया निलंबित, नहीं आया कोई जुगाड़ काम

रीवा। कई दिनों से चली आ रही कशमकश पर जिला कलेक्टर इलैया राजा टी ने अंतिम विराम लगा दिया। शिक्षा विभाग के कक्षा एक से पांच तक अध्यापन किए जाने वाले ऑनलाइन डिजिलेप ग्रुप में अश्लील वीडियो की लिंक भेजने वाले शिक्षक को निलंबन की सौगात दी।

बच्चों को अश्लील शिक्षा दे रहा शिक्षक : पूर्व में भी दो बार अश्लील वीडियो किए थे वायरल, 22 साल से एक ही स्कूल में पदस्थ है शिक्षक, राज्य शिक्षा केंद्र के अधिकारी नहीं करते हैं कार्यवाही

बताया गया है कि शासकीय प्राथमिक विद्यालय हरिजन बस्ती मैदानी संकुल केंद्र मार्तंड क्रमांक 3 में पदस्थ कृपा शंकर चतुर्वेदी प्राथमिक शिक्षक जिन्होंने ड्यूटी समय पर छात्रों के लिए बनाये गये ग्रुप में अश्लील लिंक शेयर की थी। उक्त ग्रुप में शिक्षा विभाग की ही लगभग 65 महिला शिक्षिका और 200 से ज्यादा बच्चे तथा अभिभावक जुड़े हुए थे। ग्रुप में अश्लील वीडियो डालने की जानकारी महिला शिक्षिकाओं ने जन शिक्षक मार्तण्ड-3 श्रीमती रीना मिश्रा को दी। जिन्होंने मामले की शिकायत बीआरसीसी रीवा, संकुल प्राचार्य मार्तण्ड-3 एवम डीपीसी रीवा को दी।

प्रभारी डीपीसी अमरनाथ सिंह ने प्रथम दृष्टया साक्ष्य के आधार पर कर्मचारी का निलंबन प्रस्ताव तैयार कर सीईओ जिला पंचायत को भिजवाया। जहां से जांच के लिए फाइल जिला शिक्षा अधिकारी को भेज दी गई। डीईओ डीईओ ने संकुल प्राचार्य मार्तंड क्रमांक 3 आर एल दीपांकर को जांच हेतु अधिकृत किया जहां से जांच प्रतिवेदन पर शिक्षक दोषी को दोषी माना और व्हाट्सएप पर अश्लील लिंक भेजना पाया गया ।  हलांकि कार्यालय में फाइल पहुंचने के बाद से उक्त शिक्षक अपने को बचाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे माफीनामा, सँघ के नेताओं की सिफारिश में लग गया। लेकिन कोई सिफारिश काम नहीं आई।

जिले के तेज तर्रार कलेक्टर इलैया राजा टी जो कि अवकाश में रहने के बावजूद भी सारी क्रियाकलापों से परिचित थे और पदभार ग्रहण करते ही तत्काल एक्शन लिया। शिक्षक कृपाशंकर चतुर्वेदी को दोषी मानते हुए निलंबन की सौगात प्रदान की।  निलंबन अवधि मुख्यालय गंगेव विकासखंड बनाया गया है।

Powered by Blogger.