ALERT : कड़ाके की ठंड की चपेट में रीवा संभाग सहित कई जिले : 24 घंटे के अंदर रात का न्यूनतम पारा पहुँचा 3 डिग्री

उत्तर भारत से आ रही शीतलहर और बर्फीली हवाओं से समूचा रीवा कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गया है। यहां बीते 24 घंटे के अंदर रात का न्यूनतम पारा 3 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया है। मौसम विज्ञानिकों का दावा है कि अगले 24 घंटे तक इसी तरह ठंड पड़ेगी। ऐसे में रात का पारा नीचे रहेगा। साथ ही उत्तर भारत की ओर से आ रही हवाएं यथावत रहेंगी। जिससे फसलों और सब्जियों को खासा नुकसान हो सकता है।

MP में दिन में रात जैसी ठंड : रीवा,भोपाल समेत 15 शहरों में शीतलहर : ठंडी हवाओं के साथ कंपकंपी बढ़ी

बता दें कि रीवा जिले में रविवार रात का पारा 3 डिग्री दर्ज हुआ। जो सीजन की सबसे ठंड ​रात गुजरी है। कड़ाके की ठंड से सुबह पेड़-पौधों और फसलों में बर्फ की परत जमी दिखी। साथ ही धान के पैरा को बर्फ की चादरों ने ओढ लिया था। वहीं चिकित्सकों ने आम जनता ठंड से बचने के लिए ऊनी कपड़े पहनने की सलाह दी है।

विकास पुरुष राजेंद्र शुक्ल ने रीवा को दी एक और नए FLY OVER की सौगात; 800 मीटर लंबी होगी ये थर्ड लेग

न्यूनतम तापतान के 3 डिग्री के नजदीक पहुंचने पर सब्जियों के अलावा किसानों की फसलों में भी पाला का खतरा मड़रा रहा है। कृषि वैज्ञानिकों का कहना है कि यदि तीन से चार दिनों तक रात का तामपान 5 डिग्री के नीचे रहता है तो सब्जियों सहित फसलों में पाला लगने की संभावना बढ़ जाएगी। सब्जियों में मटर, गोभी, टमाटर की फसल को पाला से बचाने सिंचाई की जरूरत है। या फिर धुआं कर फसलों को पाला से बचाया जा सकता है।

Powered by Blogger.