MP : रीवा जिले में फिर मानवता हुई शर्मसार : 4 वर्षीय मासूम को घर से टॉफी खिलाने के बहाने झोपड़ी में ले जाकर किया रेप, आरोपी गिरफ्तार

रीवा जिले में मानवता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। पुलिस के मुताबिक 4 वर्षीय मासूम को आरोपी घर से टॉफी खिलाने के बहाने झोपड़ी में ले गया था। यहां उसने पीड़िता के साथ रेप किया। वारदात के बाद बच्ची के रोने की आवाज से आरोपी डर गया। ऐसे में मासूम को घर के पास छोड़कर फरार हो गया। चीखें सुनकर परिवार के सदस्य दौड़कर मौके पर पहुंचे। जिसने गलत होने की आशंका पर पुलिस को सूचना दी।

लोकायुक्त की ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी : एक बार फिर 4 की रिश्वत लेते पटवारी ट्रैप, सीमांकन के एवज में मांगी थी रकम

जानकारी के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला पुलिस अधिकारियों के समक्ष बयान कराए। इसके बाद एसजीएमएच ले जाकर पीड़िता का मेडिकल चेकअप कराया गया। जहां ​चिकित्सकों ने रेप की पुष्टि की है। ऐसे में आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 व पास्को एक्ट की धारा 5/6 के तहत प्रकरण दर्ज किया। फिर दूसरे दिन सुबह आरोपी को घेराबंदी कर गिरफ्तार करते हुए कोर्ट में पेश किया है। जहां से संभवत: जेल भेज दिया जाएगा।

रीवा बीईओ के निरीक्षण से खुली पोल, अवकाश में प्रतिबंध के बावजूद कई शिक्षक पाए गए आकस्मिक अवकाश पर

मनगवां थाना प्रभारी निरीक्षक डीके दाहिया ने बताया कि ​रविवार की दोपहर 3.30 बजे 4 वर्षीय मासूम अपने घर के बाहर खेल रही थी। तभी गांव का आरोपी विकास भारती पुत्र सुरेश भारती (22) घर के पास पहुंचा था। जिसने मासूम को कुछ खिलाने का लालच दिया। जब पीड़िता उसके गोंद में चली गई तो कुछ दूर स्थित सबमर्सिबल पंप की झोपड़ी में ले ​गया। इसके बाद मुंह और गला दबाकर बलात्कार किया।

मासूम खतरे से बाहर

वारदात के बाद पीड़िता को रविवार की देर रात रीवा के संजय गांधी अस्पताल लाया गया था। ​यहां सोमवार को वरिष्ठ चिकित्सकों की टीम ने प्राथमिक उपचार किया था। लेकिन खतरे से बाहर होने पर मेडिकल चेकअप के बाद मासूम को छुट्टी दे दी गई है।

12 घंटे में आरोपी गिरफ्तार

पुलिस सूत्रों ने बताया कि रेप की घटना के बाद आरोपी को 12 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया गया था। जिसको सोमवार की दोपहर जिला न्यायालय में पेश किया है। यहां से बलात्का और पास्को एक्ट के आरोपी को केन्द्रीय जेल रीवा भेजा जा रहा है।

Powered by Blogger.