हिजाब के बाद अजान विवाद की एंट्री : रतलाम में हिंदू संगठन ने लाउडस्पीकर से अजान होने पर आपत्ति जताई, बोले- जब-जब अजान होगी तो तेज गाने बजाएंगे

मध्यप्रदेश में हिजाब के बाद अब अजान विवाद की एंट्री हो गई है। रतलाम में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने लाउडस्पीकर से अजान होने पर आपत्ति जताई है। साथ ही एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें एक युवक कह रहा है कि उन्होंने मस्जिद के सामने वाली इमारत पर लाउडस्पीकर लगा दिए हैं। अब से जब-जब अजान होगी, हम भी लाउडस्पीकर से तेज गाने बजाए जाएंगे। VIDEO जिले के रावटी इलाके का है।

अब मरीजों को एंबुलेंस के लिए नहीं करना होगा घंटों इंतजार जल्द मोबाइल से कैब की तरह मिलेगी सुविधा : कितना होगा किराया जानिए सबकुछ

29 सेकेंड के इस VIDEO में युवक कहता दिखा रहा है- 'रावटी की मस्जिद में अजान को लेकर पुलिस में अर्जी देने के बाद भी लाउडस्पीकर से अजान बजाई जा रही है। हमने भी इसका उपाय खोज लिया है। हमने मस्जिद की सामने वाली इमारत में लाउडस्पीकर लगा दिए हैं। जब-जब अजान होगी, हम लाउडस्पीकर बजाएंगे। ये संदेश पूरे हिंदुस्तान में जाना चाहिए।'

अजब-गजब इश्क : दो बचपन की सहेलियों ने रचाई अनोखी शादी : प्राइवेट पार्ट बदलवाने के लिए सिंगापुर से बुलाए डॉक्टर

बताया जा रहा है कि इस VIDEO को 31 जनवरी को शूट किया गया था। इसके एक दिन पहले ही RSS से जुड़े हिंदू जागरण मंच ने लाउडस्पीकर्स से अजान पर रोक लगाने की मांग को लेकर रतलाम जिले के रावटी पुलिस थाने में आवेदन दिया था।

सांसद प्रज्ञा ठाकुर को अश्लील वीडियो कॉल करके ब्लैकमेल करने वाले दो आरोपियों को राजस्थान से अरेस्ट कर लाया भोपाल

पुलिस ने सुलझाया विवाद

VIDEO सामने आने पर पुलिस रावटी गांव पहुंची। मुस्लिमों से मस्जिद के लाउडस्पीकर की आवाज कम करने का आग्रह किया। साथ ही सामने वाली इमारत पर स्थानीय लोगों द्वारा लगाए गए लाउडस्पीकर भी हटवा दिए।

                      हिंदू जागरण मंच ने इस तरह के आवेदन पुलिस को दिए हैं।

दूसरे शहरों में भी लाउडस्पीकर से अजान पर आपत्ति

रतलाम के अलावा कई अन्य शहरों में भी लाउडस्पीकर पर अजान को लेकर आपत्ति जताने की बात सामने आई हैं। हिंदू जागरण मंच ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर खंडवा, बड़वानी, धार और उज्जैन के थानों में भी इसी तरह की अर्जियां दी हैं। मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर रोक लगाने की मांग की है। आवेदन में सऊदी अरब के जून 2021 के एक फैसले का उल्लेख किया गया, जिसमें अत्यधिक शोर की शिकायतों के बाद मस्जिद के लाउडस्पीकर की आवाज को कम किया गया था।

Powered by Blogger.