LIVE : CM शिवराज ने की बड़ी घोषणाएं : कोरोना की पहली लहर के लाखो बिजली उपभोक्ताओ का बिल माफ, डिफॉल्टर किसानों का ब्याज भी माफ


विधानसभा के बजट सत्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी घोषणाएं की। विधायक निधि 2 करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ की गई। इसके साथ ही, कोरोना की पहली लहर के दौरान के बिजली बिल माफ किए जाएंगे। 88 लाख घरेलू उपभोक्ता के करीब 6400 करोड़ रुपए माफ किए जाएंगे। समाधान योजना के तहत 48 लाख उपभोक्ताओं ने 189 करोड़ रुपए जमा किए थे। उनकी इस राशि को अगले बिलों में समायोजित किया जाएगा। सीएम ने कहा कि डिफॉल्टर किसानों का ब्याज माफ किया जाएगा। यानि मूल राशि जमा करनी होगी, लेकिन इसका ब्याज राज्य सरकार भरेगी। पुलिस आरक्षक की भर्ती में फिजिकल टेस्ट 50% नंबर का होगा। मुख्यमंत्री ने राज्यपाल के अभिभाषण पर अपना वक्तव्य दिया।

READ MORE : पत्नी ने सुहागरात का वीडियो वायरल कर पति को धमकाया : भोपाल की शादीशुदा नर्स ने की दूसरी शादी, पोल खोलने पर उल्टा पति को भिजवा दिया जेल

CM ने कहा कि भूमाफिया से भूमि मुक्त करवाकर दी जाएगी। 1 घंटा 58 मिनट के उनके इस भाषण में कांग्रेस ने हंगामा भी किया। उमा भारती द्वारा शराब की दुकान पर पत्थर मारने का मुद्दा भी कांग्रेस ने उठाया और जमकर हंगामा किया। सदन की कार्रवाई कल तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

READ MORE : MP Budget 2022-23 : सस्ती दारू, महंगा तेल- यह है शिवराज सरकार का 'खेल' : कांग्रेस

शराब दुकान में तोड़फोड़ पर उमा की CM को चिट्‌ठी, लिखा- वहां महिलाएं रो रही थीं, इसीलिए पत्थर दे मारा

शराब दुकान में तोड़फोड़ करने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने सोमवार को CM शिवराज सिंह चौहान को चिट्ठी लिखकर सफाई दी। उन्होंने लिखा- वहां महिलाएं रो रही थीं, शराब की दुकान नियम विरुद्ध थी, इस पर मेरी प्रतिक्रिया स्वाभाविक थी। मैंने पत्थर शराब की बोतलों पर दे‌ मारा। वहीं, उमा भारती के शराब दुकान में तोड़फोड़ करने पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, इसमें खराबी क्या है। ये उमा जी के अपने विचार हैं। वह अपने विचारों के हिसाब से कर रही हैं। पांच राज्यों में कांग्रेस को मिली करारी हार पर उन्होंने कहा कि अभी इसका अध्ययन नहीं किया जा सकता। इस विषय में चिंतन शिविर होगा, जिसमें सब अपनी बात रखेंगे। कमलनाथ छिंदवाड़ा में मीडिया से चर्चा कर रहे थे।

READ MORE : पत्नी ने सुहागरात का वीडियो वायरल कर पति को धमकाया : भोपाल की शादीशुदा नर्स ने की दूसरी शादी, पोल खोलने पर उल्टा पति को भिजवा दिया जेल

'द कश्मीर फाइल्स' देखने के लिए पुलिसकर्मियों को मिलेगी छुट्‌टी

मध्यप्रदेश सरकार ने हाल ही में रिलीज हुई फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' को टैक्स फ्री करने के बाद एक और फैसला लिया है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश के DGP को पुलिसकर्मियों को फिल्म देखने के लिए एक दिन का अवकाश स्वीकृत करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी सुविधानुसार जब भी फैमिली के साथ फिल्म देखने जाना चाहें, उन्हें छुट्‌टी दें। फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' के जरिए कश्मीरी पंडितों का दर्द दिखाया है। रिलीज से पहले फिल्म को विवादित बताते हुए कई लोगों ने इस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी। इस फिल्म के बहाने राजनीति भी खूब हो रही है। जुलाई 2021 तक के आंकड़ों के मुताबिक, प्रदेश में 1 लाख 26 हजार 462 पुलिसकर्मी हैं।

Powered by Blogger.