रीवा में अंधी हत्या का पर्दाफाश : पति की बेरुखी से परेशान पहली पत्नी ने भाई और भतीजे के साथ मिलकर पति को उतारा था मौत के घाट

                 

रीवा जिले में बीते दिवस अज्ञात व्यक्ति की सिरकटी लाश मिलने के बाद पुलिस ने अंधी हत्या का बेहद ही सनसनीखेज खुलाशा किया है। पुलिस ने एक महिला सहित 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने अज्ञात व्यक्ति की हत्या सुनियोजित तरीके से की थी, जिन्होंने पहले से पुल के ऊपर से धक्का देकर नीचे गिराया जिसके बाद कुल्हाड़ी से सिर को धड़ से अलग किया और एक हाथ सहित गुप्तांग को भी काटा और मृतक की पहचान छिपाने सिर को जमीन में दफन कर दिया था।

रीवा में सिर कटी लाश का खुलासा : गुजारा भत्ता और संपति में हिस्सा न देने पर काट दिया था दाहिना हाथ और गुप्तांग, बोरी में भरकर 4 KM दूर फेंका था शव

पुलिस के खुलाशे में अज्ञात व्यक्ति का कातिल कोई और नहीं बल्कि उसकी पहली पत्नी निकली जिसने अपने भाई और भतीजे के साथ मिलकर इस खौफनाक कत्ल को अंजाम दिया था। दरअसल यह खुलाशा रीवा एसपी नवनीत भसीन ने पुलिस कंट्रोल रुम में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान किया। एसपी ने बताया कि इस अंधी हत्या के खुलाशे में मऊगंज एएसपी विवेक कुमार लाल व एसडीओपी नवीन दुबे का विशेष योगदान रहा जिनके कुशल निर्देशन में पुलिस टीम ने अंधे कत्ल का पर्दाफाश करते हुये आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

कार एक्सीडेंट में युवक की मौत : तेज रफ्तार कार अनियिंत्रत होकर डिवाइडर से भिड़ते हुए पलटी, गंभीर हालत में निकला नगर सेठ का नाती, साथी फरार

धड़ से कटा मिला सिर, हाथ और लिंग

बीते दिवस रीवा के नईगढ़ी थाना क्षेत्र स्थित बहुती सिगदहा पुलिया के नीचे एक अज्ञात व्यक्ति की लाश पड़ी मिली। पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो मृतक के धड़ से सिर सहित दाहिना हांथ और लिंग कटा हुआ है। मामला हत्या का प्रतीत होने पर पुलिस ने सबसे पहले मृतक की शिनाख्तगी का प्रयास किया। जिले भर के थानों में कायम गुम इंसानों के परिजनों से संपर्क करने पर मृतक की पहचान गढ़ थाना क्षेत्र से लापता गुलामुद्दीन उर्फ मंजू 38 वर्ष के रुप में की गई।

शहर में विभिन्न अपराधों में संलिप्त जिले के 8 अपराधियों को किया जिला बदर : देखें नाम

ऐसे खुला हत्या का राज

इलाके में मिली सिरकटी लाश की पहचान होने के बाद पुलिस ने पड़ताल शुरु की तो सामने आया कि मृतक की दो पत्नियां है। पहली पत्नी से उसने लगभग 12 वर्ष पूर्व शादी की जिसके 4 बच्चे है जबकि दूसरी शादी उसने 2 वर्ष पूर्व ही की थी। बताया गया कि मृतक की पहली पत्नी पति की बेरुखी से परेशान थी जिसका वह सही ढंग से पालन पोषण नहीं करता था और ना ही बच्चों के प्रति अपनी जिम्मेदारियां समझ रहा था। पति की बेरुखी से परेशान पहली पत्नी ने अपने भाई और भतीजे के साथ हत्या का षडयंत्र रचा और उसकी हत्या करा दी।

रीवा शहर में महिलाएं असुरक्षित : दिनदहाड़े सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की लिफ्ट में महिला से दुष्कर्म की कोशिश : अस्पताल में मचा हड़कंप

ऐसे की थी हत्या

मृतक की पत्नी, साला और भतीजे ने पूर्व से रचे गए षडयंत्र के मुताबिक घटना दिनांक को बुलाकर शराब पिलाई जिसके बाद उसे बाइक में बैठाकर सिगदहा पुल ले गए और पुल के ऊपर से ही धक्का देकर नीचे गिरा दिया। आरोपियों ने मृतक के नीचे गिरने के बाद कुल्हाड़ी से सिर को धड़ से अलग कर दिया और उसकी पहचान छिपाने के लिये सिर को जमीन में ही दफन कर दिया। इसके अलावा आरोपियों ने मृतक का दाहिना हाथ और लिंग भी काट दिया था।

नशे का हब बना रीवा : पुलिस से खुद को बचाने तस्करों ने कार में लिखाया मजिस्ट्रेट, 90 हजार की 9 पेटी नशीली कफ सीरप बरामद

यह आरोपी गिरफ्तार

युवक की हत्या के मामले में पुलिस ने मृतक की पहली पत्नी कुरैशा बानों निवासी गढ़ हाल मुकाम सदर बाजार नई दिल्ली, मृतक का साला मोहम्मद अली उर्फ एजाज निवासी वार्ड क्रमांक 11 बैकुण्ठपुर व मृतक का भतीजा महताब अहमद उर्फ गोलू निवासी गढ़ को गिरफतार किया है। मामले में आरोपियों के विरुद्ध हत्या की धारा 302 का अपराध दर्ज कर आज न्यायालय में पेश किया जाकर जेल में दाखिल किया गया है।

Powered by Blogger.