REWA : प्रदेश इकाई के निर्देश का इंतजार : जूनियर डाक्टर्स ने कहा, किसी भी समय रीवा में हड़ताल पर जा सकते

 

REWA : प्रदेश इकाई के निर्देश का इंतजार : जूनियर डाक्टर्स ने कहा, किसी भी समय रीवा में हड़ताल पर जा सकते

रीवा। प्रदेश सरकार और जूनियर डाक्टर्स के बीच एक बार फिर बातचीत बेनतीजा रही है। जिसके चलते प्रदेश भर में हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी गई है। रीवा के जूनियर डाक्टर्स ने कहा है कि भोपाल में चल रही वार्ता पर उनकी नजर है। किसी भी समय रीवा में हड़ताल पर जा सकते हैं। भोपाल मेडिकल कालेज के जूनियर डाक्टर्स द्वारा शुरू की गई हड़ताल के समर्थन में सांकेतिक हड़ताल करते हुए संजयगांधी अस्पताल एवं गांधी स्मारक अस्पतालों में जूनियर डाक्टर काले कपड़े अथवा काली पट्टी बांधकर उतरे। 

त्योहारों के सीजन की शुरुआत होने से बाजार में फिर लौटी रौनक,अब वैवाहिक सीजन में मिलेगी रफ्तार

इनका कहना है कि वह मरीजों की सेवा अभी जारी रखे हुए हैं लेकिन सरकार मांगों पर अमल नहीं करेगी तो वह किसी भी समय पर हड़ताल में जा सकते हैं। पूर्व में की गई प्रदेशव्यापी हड़ताल कोर्ट के निर्देश पर समाप्त की गई थी। हड़ताल समाप्त करने से पहले सरकार ने जूनियर डाक्टरों के रजिस्ट्रेशन निरस्त करने का नोटिस दिया था। रीवा सहित प्रदेश के अन्य मेडिकल कालेजों के जूनियर डाक्टर्स को दिए गए नोटिस पर सरकार ने कार्रवाई नहीं की है। लेकिन भोपाल के तीन डाक्टर्स का रजिस्ट्रेशन निरस्त करने का आदेश अब तक वापस नहीं हुआ है। इसी के चलते सरकार के साथ बातचीत चल रही है।

भागो- भागो आ गए नवनीत भसीन : गुंडे मावलियों से लेकर चैन स्नैचिंग व सुट्टा प्रेमियों की अब खैर नहीं, कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त करने की कवायद शुरू

दमनकारी नीति किसी की नहीं चली है : जूडॉ

श्यामशाह मेडिकल कालेज के जूनियर डाक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष हृदयेश दीक्षित ने कहा है कि सरकार हठधर्मिता छोड़कर हमारी मांगों को पूरा करे। इसे प्रतिष्ठा का विषय नहीं बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दमनकारी नीति किसी की नहीं चली है। लोकतांत्रिक तरीके से आंदोलन जारी रहेगा और सरकार को जूनियर डाक्टर्स की मांगें मानने के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read