Booster dose लगवाने वाले है तो झेलने पड़ सकते हैं कई तरह के साइड इफेक्ट : पढ़ लीजिए ये जरूरी खबर

 

Booster dose लगवाने वाले है तो झेलने पड़ सकते हैं कई तरह के साइड इफेक्ट : पढ़ लीजिए ये जरूरी खबर

अमेरिका की जामा नेटवर्क ओपन की एक स्टडी के अनुसार बूस्टर डोज बेहद स्ट्रॉन्ग है। इसके लेने के बाद कई तरह के साइड इफेक्ट झेलने पड़ सकते हैं। इस वायरस ने दुनिया भर में कई ट्रिगर्स को जन्म दिया। जिससे स्वास्थ्य कर्मियों को गंभीर चुनौतियां मिली है। स्थिति को कंट्रोल में लाने के लिए विशेषज्ञों ने सभी से टीकाकरण कराने का आग्रह किया है। दोनों डोज लेने के बाद भी लोग पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। हालांकि बाद में यह पाया गया कि संक्रमण की गंभीरता को दूर रखने के लिए बूस्टर डोज जरूरी है। इस बीच प्रिकॉशन डोज पर बड़ा खुलासा हुआ है। 

CM शिवराज के प्रयास हुए सफल : Supreme court ने दिए आदेश, OBC आरक्षण के साथ होंगे

स्टडी के अनुसार बूस्टर डोज फायदे के साथ कुछ साइड इफेक्ट्स दे सकता है। ये एक सामान्य संकेत है कि वैक्सीन बॉडी में प्रभाव डाल रही है। हालांकि कई बार इसके इफेक्ट इतने स्ट्रॉन्ग हो सकते हैं, जो कुछ समय के लिए शरीर को कमजोर बना दें। वहीं वैक्सीन कुछ लोगों पर साइड इफेक्ट नहीं डालती है।

भोजपुरी स्टार Namrata Malla ने फोटो पोस्ट कर फिर किया FANS के दिलों पर राज़, अपनी अदाओं से उड़ाए सबके होश

विशेषज्ञों के अनुसार वैक्सीन में रोगजनक मौजूद होते हैं। यह शरीर में आने पर रिएक्ट करता है। ये साइड इफेक्ट को अच्छा इशारा माना जाता है। इम्यून सिस्टम वैक्सीन में पैथोजन को पहचान कर प्रतिक्रिया करने का मतलब है कि वैक्सीन पर शरीर का प्रभाव हो रहा है।

OTT प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन स्ट्रीमिंग कंपनी Netflix के 20 लाख सब्सक्राइबर घटे तो कंपनी ने 150 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

कोविड वैक्सीन के साइड इफेक्ट को कम करने के लिए संतुलित आहार, हाइड्रेटेड और पर्याप्त नींद जरूरी है। योग और व्यायाम करें। बूस्टर शॉट के बाद किसी प्रकार का नशा न करें। साथ ही किसी भी दर्द और परेशानी होने पर डॉक्टर से संपर्क करें। बता दें बूस्टर खुराक लोगों को गंभीर कोरोना वायरस बीमारी से मजबूत सुरक्षा बनाए रखने में मदद करती है।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read