मध्यप्रदेश के रीवा समेत इन 25 जिलों में आज हो सकती है तेज बारिश, कई जगह बनी हैं बाढ़ की स्थिति


भोपाल। बीते दिन महाराष्ट्र में तबाही मचाने के बाद अब निसर्ग तूफान का असर मध्य प्रदेश में भी देखने को मिल रहा है। भोपाल समेत मध्यप्रदेश के 34 शहरों में बारिश  हुई है, जबकि 18 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। वहीं उज्जैन में भी तेज बारिश ने लोगों के लिए आफत खड़ी कर दी। निसर्ग तूफान के प्रभाव के कारण ज्यादातर जिलों में बुधवार की देर शाम से ही बारिश का सिलसिला जारी है। तेज हवाएं चलने के साथ बीती रात भोपाल, इंदौर, सागर, होशंगाबाद में झमाझम बारिश हुई। मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा 40 सेंटीमीटर बारिश सीधी, नरसिंहपुर, मंडला में दर्ज की गयी। मौसम विभाग ने आज भी 4 से 5 संभागों में भयंकर बारिश का अलर्ट जारी किया है।

2 से 3 दिन तक रहेगा असर

मौसम विभाग की मानें तो अभी निसर्ग का असर एमपी में 2 से 3 दिन तक रहेगा। विभाग ने बुधवार को ही एमपी के 18 जिलों में जोरदार बारिश की चेतावनी जारी की थी, जिसमें राजधानी भोपाल भी शामिल था। वहीं, बारिश की वजह से अधिकतम तापमान में भारी गिरावट हुई है। इसकी वजह से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है।
इन जिलों में होगी भारी बारिश

मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, बुरहानपुर, खंडवा, खरगौन, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, छिंदवाड़ा, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़ और शाजापुर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी है। इसके साथ ही भोपाल, इंदौर, जबलपुर, सागर, उज्जैन, ग्वालियर, रीवा, शहडोल और चंबल संभागों में तेज हवा के साथ-साथ गरज चमक के साथ बारिश होगी।

हो गया है अलर्ट

निसर्ग तूफान को लेकर इंदौर नगर निगम भी अलर्ट हो गया है। तूफान के मद्देनजर निगम के आला अधिकारियों निगम कंट्रोल रूम में मौजूद है। अपर आयुक्त, उपायुक्त सहित एसडीआरएफ की टीम के अधिकारी भी नगर निगम कंट्रोल रूम पर मौजूद हैं। वायरलेस सेट के माध्यम से लगातार शहर के हालात की जानकारी ली जा रही है। अब तक शहर में 6 पेड़ो के गिरने की सूचना कंट्रोल रूम को मिली है। निगम आयुक्त प्रतिभा पाल अधिकारियों से लगातार जानकारियां ले रही है।

MP में 15 जून को दस्तक देगा मानसून ,REWA समेत इन जिलों में होगी जोरदार बारिश'

आ गया है बाढ़ का पानी

निसर्ग चक्रवात की वजह से महाकौशल, विंध्य के कई जिलों में तेज बारिश हुई। जबलपूर, मंडला, नरसिंहपुर, सतना, रीवा, सीधी, उमरिया, अनूपुर में रुक-रुक कर बारिश जारी। सबसे ज्यादा मंडला में पौने दो इंच बारिश 1 दिन में दर्ज हुई, जबलपुर में आधा इंच से ज्यादा वर्षा दर्ज। अगले 24 घंटे ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना, मौसम विभाग ने इसे लेकर अजर्ट जारी किया है। वहीं मालवा-निमाड़ अंचल में बुधवार रात से बारिश का दौर जारी है। खंडवा में सुबह आठ बजे तक तीन इंच से ज्यादा बारिश हो गई है। कुंदा नदी में बाढ़ का पानी आ गया है। बड़वानी विकासखंड में 4 इंच, सेंधवा चाचरिया व निवाली में 4 इंच से अधिक बारिश हुई है। धार जिले के डेहरी में कच्चे घर की दीवार‍ गिरने से एक युवक और बुजुर्ग महिला की मौत।

किसानों को हो रहा नुकसान

बड़वानी जिले में निसर्ग चक्रवात की वजह से तेज बारिश गर्मी से राहत लेकर आई, लेकिन किसानों पर कहर आ गया। जिन किसानों ने खेत में फसल लगा रखी थी, उन्हें नुकसान की आशंका है। अंजड़ निवासी ऋषि शर्मा खेत कि मेढ़ पर लगा पाला फूटने से लगभग 6 एकड़ की कपास की फसल को नुकसान पहुचा है।

बिजली गिरने के भी आसार

मौसम विभाग का मानना है कि इस तूफान का असर उज्जैन और इंदौर संभाग में होगा। विभाग ने तेज हवा चलने की संभावना जताई है। इस दौरान आकाशीय बिजली गिरने के आसार हैं, तेज हवाओं के चलते पेड़ उखड़ने की आशंका भी जताई गई है। ऐसे में सभी नागरिकों से अपने-अपने घरों में रहने की अपील की गई है। उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने जिले के सभी एसडीएम एवं तहसीलदारों और पुलिसकर्मियों को भी चेतावनी जारी की है। साथ ही तैयार रहने को कहा है जिससे आपात स्थिति में तुरंत आम जनता तक राहत पहुंचाई जा सके।

REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.Rewanewsmedia.com

Powered by Blogger.