BHOPAL : दिल्ली से हरी झंडी का इंतज़ार, प्रदेश के नेताओं से हुआ मंथन : जल्द होगा शिवराज मंत्रिमं विस्तार


भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में जल्दी ही मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा। बुधवार को उन्होंने इस मामले में प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत से विस्तार विस्तार से चर्चा की है। अब आगे की बातचीत दिल्ली में होगी। माना जा रहा है कि अगर सबकुछ ठीक रहा तो मध्य प्रदेश में इसी हफ्ते मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। इसके लिए सीएम शिवराज सिंह आज दिल्ली जाने वाले थे लेकिन उनका दौरा टल गया। अब जल्द ही सीएम दिल्ली जाएंगे और भाजपा नेताओं को प्रदेश की स्थिति से अवगत कराएंगे।

ये भी पढ़े : उपचुनाव से पहले कांग्रेस को लगा बड़ा झटका ,500 कार्यकर्ता BJP में शामिल

सीएम ने दिए संकेत,नेताओं से किया मंथन
सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा जल्द मंत्रिमंडल विस्तार करने की बात कहने के बाद राजनीतिक गलियारों में फिर हलचल शुरू हो गई है। मंत्रिमंडल में इस बार किसे जगह मिलेगी यह तो आने वाला वक्त बताएगा। माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार में उन इलाकों के चेहरे भी शामिल हो सकते हैं, जहां उपचुनाव होने वाले हैं।

ये भी पढ़े : 27 JUNE को शपथ ले सकते हैं 22 नए मंत्री : किसकी होगी नैया पार ? 

ये बन सकते मंत्री
भाजपा से गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, रामपाल सिंह, अजय विश्नोई, यशोधरा सिंधिया, गौरीशंकर बिसेन, राजेंद्र शुक्ला, कैदार नाथ शुक्ला, विश्वास सारंग, विष्णु खत्री, अरविंद भदौरिया, संजय पाठक, विजय शाह, डॉ. सीताशरण शर्मा, उषा ठाकुर, रमेश मेंदोला, चेतन कश्यप, महेंद्र यादव, ओमप्रकाश सकलेचा के नाम शामिल है हालांकि इन नामों में केंद्रीय नेतृत्व कुछ परिवर्तन कर सकता है।

अब हर गरीब परिवार को मिलेगा मुफ्त रसोई GAS कनेक्शन : जल्दी ले लाभ

वरिष्ठ विधायकों के दबाव में अटका मामला
बताया जा रहा है कि जाति, क्षेत्र और सामाजिक संतुलन के साथ पार्टी में ऐसे सीनियर विधायक को भी तवज्जो दी गई है, जो पिछली सरकार में मंत्री नहीं बन पाए थे। इसी के बाद पार्टी की मुश्किल बढ़ गई है। पार्टी चाहती है कि मौजूदा 5 मंत्रियों को मिलाकर मंत्रिमंडल इतना बढ़ा हो कि 4 से 5 स्थान रिक्त रहें। यानी साफ है कि अब 24 से 25 लोगों को ही शिवराज की टीम में जगह मिल सकती है। सिंधिया समर्थकों के 11 नेताओं (गोविंद सिंह राजपूत, तुलसी सिलावट के बाद अब 9 मंत्री और बन सकते हैं) को मंत्रिमंडल में लेने के बाद 18 से 19 पद भाजपा को मिलेंगे। कांग्रेस के बागियों में प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिसोदिया, राज्यवर्द्धन सिंह दत्तीगांव, बिसाहूलाल सिंह, एंदल सिंह कंसाना, हरदीप सिंह डंग का नाम है।
Powered by Blogger.