UNLOCK में अब रीवा रूट से स्पेशल ट्रेनों के चलाने की कवायद तेज : यात्रियों को मिलेगी काफी राहत


सतना। लॉकडाउन को अब धीरे-धीरे अनलॉक किया जा रहा है जिसके बाद व्यवस्थाएं पटरी पर लौट रही हैं।  रेलवे ने प्रथम चरण में देश भर में 100 ट्रेनों की शुरुआत की गई है। जिसमे सतना जंक्शन से अप-डाउन की लगभग 12 ट्रेनें गुजर रही हैं लेकिन अब अगले चरण में रीवा रूट से स्पेशल ट्रेनों के चलाने की कवायद तेज हो गई है।
बताया गया कि पश्चिम मध्य रेलवे ने अगले चरण में अपने जोन से कुछ ट्रेनों को चलाने को लेकर रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा है जिसमे रीवा स्टेशन से चलने वाली ट्रेनें भी शामिल हैं। हांलाकि गाड़ियों को शुरू करने को लेकर अंतिम निर्णय रेलवे बोर्ड का होगा। अभी अनलॉक -1 में रीवा से एक भी ट्रेन नहीं चल रही है। अगर यहां से कोई गाड़ी चलती है तो यहां के यात्रियों को काफी राहत मिलेगी।

दफ्तरों में दरवाजा बंद कर गपशप में मशगूल अधिकारी-कर्मचारी, खिडक़ी से झांक रहे फरियादी

मिलता है सबसे अधिक ट्राफिक
बताया जाता है कि रीवा से शुरू होने वाली गाड़ियों में सबसे ज्यादा ट्राफिक मिलता है। इसी  को देखते हुए यहां से गाड़ियों के चलाने की कवायद शुरू की गई है। भोपाल, दिल्ली, बिलासपुर रूट की ट्रेने साल के 365 दिन पैक रहती हैं। इसके अलावा जबलपुर, मैहर, सतना स्टेशन तक सैकड़ों हजारों यात्री रोजाना सफर करते हैं जिसमें नौकरी पेशा वाले लोग शामिल होते हैं। बताया जाता है कि अभी भोपाल रूट पर एकमात्र ट्रेन कामायनी है जिसमे कन्फर्म टिकट नहीं मिल रही।

विधायक राजेंद्र शुक्ला के ट्वीट के बाद फिल्म स्टार सोनू सूद ने मुंबई में फंसे प्रवासियों को स्पेशल बस से भेजा MP

अप की गाड़ियों में नहीं मिल रहे यात्री 
बताया गया कि अभी जो स्पेशल ट्रेनें चल रही हैं उसमें डाउन की दिशा की गाड़ियां तो पैक हैं लेकिन अप दिशा की गाड़ियां खाली हैं। मुम्बई- गुजरात जाने के लिए यात्री नहीं मिल रहे। आरक्षण कार्यालयों में बुकिंग न के बराबर है और रिफंड के ज्यादा केस रहते हैं। बताया गया कि एक दिन में जहां रेलवे को आरक्षण कार्यालय से 3 से 4 लाख रुपए का राजस्व मिलता था वहीं अब 20 से 25 हजार रुपए का राजस्व मिल पाता है।

चक्रवाती तूफान निसर्ग का असर : निगम प्रशासन की खुली पोल ,जलभराव की चपेट में रीवा शहर

दूसरे जोन ने भी भेजा प्रस्ताव 
वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों की मानें तो दूसरे जोनों ने भी रीवा से ट्रेन चलाए जाने की मांग को लेकर रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा है जिसमें रीवा-बड़ोदरा, रीवा-बिलासपुर ट्रेन शामिल हैं। वहीं पश्चिम मध्य रेलवे ने रेवांचल और रीवा से जबलपुर के बीच एक ट्रेन को चलाने को लेकर प्रस्ताव भेजा है।

REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ  रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.rewanewsmedia.com

Powered by Blogger.