MP LIVE : बस यात्रियों के लिए खुशखबरी : अब नहीं बढ़ेगा कोई किराया कही भी करें यात्रा


भोपाल. कोरोना संक्रमण के कारण बंद बसों का आज से पूरी क्षमता के साथ संचालन होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बस ऑपरेटर्स की मांग को स्वीकार करते हुए 1 अप्रैल से 31 अगस्त तक का टैक्स माफ कर दिया है। हालांकि सरकार ने उस ऑपरेटर्स की किराया बढ़ाने की मांग को नामंजूर किया है। यात्री किराया नहीं बढ़ने से आम जनता को परेशानी का सामना नहीं करना होगा।


मध्यप्रदेश बस ऑनर्स एसोसिएसन के कार्यकारी अध्यक्ष संतोष पांडेय ने कहा- किराया बढ़ाने के संबंध में परिवहन विभाग के अपर प्रमुख सचिव के साथ बैठक में निर्णय लिया जाएगा। वहीं, सरकार ने साफ कर दिया है कि बसों का संचालन होगा लेकिन यात्री किराये में कोई वृद्धि नहीं होगी।


क्या कहा सीएम ने
style="text-align: justify;">
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बस संचालकों एवं उससे जुड़े लोगों की परेशानियों के देखते हुए यात्री बसों पर देय मासिक वाहनकर को 1 अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि तक पूर्णतः माफ किया जाएगा। साथ ही यात्री बसों के संचालन की स्थिति पुनः सामान्य रूप से हो सके इसको ध्यान में रखते हुए सितंबर महीने के वाहनकर में 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वाहनकर जमा करने की तिथि को 30 सितम्बर 2020 तक बढ़ाया जा रहा है।

राज्य शासन द्वारा लिये गये निर्णय से प्रदेश के बस आपरेटर्स की परेशानियां खत्म होंगी और आमजन की सुविधा के लिये अब बसों का पूरी क्षमता के साथ संचालन शुरू हो सकेगा। इसी क्रम में यात्री किराये के पुनर्निधारण के लिये किराया निर्धारण समिति को शीघ्र निराकरण के निर्देश दिये गये हैं।

आंदोलन स्थागित
प्राइम रूट बस ऑनर्स एसोशिएशन के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद शर्मा ने कहा कि परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव से फोन से चर्चा हुई। टैक्स माफी के बाद फिलहाल आंदोलन को स्थागित कर दिया गया है।


आज से पूरी क्षमता के साथ संचालन
पांच महीने के वाहनकर की माफी के बाद आज से प्रदेश में पूरी क्षमता के साथ बसों का संचालन शुरू होगा। वहीं, इस दौरान कोरोना संक्रमण की गाइड लाइन का भी ध्यान रखा जाएगा।


Powered by Blogger.