MP : उपचुनाव / अपनी ही पुरानी घोषणा में फ़से पूर्व मंत्री तुलसी सिलावट : रहवासियों ने याद दिलाई अधूरी सड़क

इंदौर। शहर में बायपास रोड स्थित एक टाउनशिप काउंटी वॉक में जनसंपर्क के लिए पहुंचे सांवेर विधानसभा के भाजपा उम्मीदवार और पूर्व मंत्री तुलसी सिलावट का पाला अपनी ही एक पुरानी घोषणा से पड़ गया। यहां के रहवासियों ने पूर्व मंत्री को याद दिलाया कि करीब डेढ़ साल पहले उन्होंने महालक्ष्मी नगर की मास्टर प्लान की अधूरी सड़क के निर्माण का वादा किया था। यह वादा अब तक पूरा नहीं हुआ। इस पर सिलावट कुछ देर के लिए असहज हो गए, लेकिन फिर जवाब दिया कि अभी चुनाव सामने है। मतदान होने और चुनाव परिणाम आने के 10 दिन बाद इस समस्या का निराकरण जरूर कराएंगे।

12वीं में बायो संकाय में 96 प्रतिशत लाने वाली सागर की साक्षी राजोरिया इंदौर के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती, लीवर ट्रांसप्लांट व मदद की जरूरत

महालक्ष्मी नगर विकास रहवासी संस्था की ओर से ब्रजेश तिवारी ने भाजपा उम्मीदवार सिलावट से चर्चा की कि महालक्ष्मी नगर, तुलसी नगर और निपानिया होते हुए बायपास रोड को जोड़ने वाली यह मास्टर प्लान सड़क क्षेत्र की कई और कॉलोनियों के लिए बहुत उपयोगी है। इसके निर्माण के लिए आपने वादा किया था कि जल्द ही इसका निर्माण होगा, लेकिन अब तक कुछ नहीं हो पाया है। इसमें काफी विलंब हो रहा है।

कमलनाथ ने शिवराज को दिया खुला चैलेंज कहा- शिवराज की सरकार वोट से नहीं बल्कि नोट से बनी है

चर्चा में अवधेश तिवारी, संदीप मेहता, पुरुषोत्तम माखीजा, आलोक कुमार, परेश श्रीवास्तव आदि शामिल थे। इस पर सिलावट ने एक बार फिर आश्वासन दिया कि अभी चुनाव है। चुनाव होने के बाद इस मामले का निराकरण तत्परता से किया जाएगा। दरअसल, शहर के पूर्वी रिंग रोड पर बॉम्बे हॉस्पिटल के सामने से महालक्ष्मी नगर, साईंकृपा कॉलोनी, तुलसी नगर और निपानिया से होते हुए जाने वाली यह फोरलेन सड़क मास्टर प्लान में शामिल है। करीब 16 साल पहले इसके एक ही हिस्से का निर्माण कर छोड़ दिया गया।

मोबाइल लूट की रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंचे इंदौर IG, एएसआइ बोला, आवेदन दे कर जाओ : सकपकाते हुए TI ने IG को किया सैल्यूट : फिर ..

तब से लेकर आज तक किसी जनप्रतिनिधि ने इस सड़क की सुध नहीं ली। इसे लेकर महालक्ष्मी नगर, तुलसी नगर, साईंकृपा, सन सिटी, अपोलो डीबी सिटी सहित आसपास की कई कॉलोनियों के रहवासी संघ सड़क निर्माण के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस संघर्ष में रीवा न्यूज़ मीडिया ने भी रहवासी संघों की आवाज को बुलंद किया था। तब पूर्व मंत्री सिलावट कांग्रेस की कमलनाथ सरकार में थे। उनके अलावा भाजपा विधायक महेंद्र हार्डिया, सांसद शंकर लालवानी आदि ने इस सड़क को बनाने का आश्वासन दिया था।

Powered by Blogger.