KATNI : एक जवान ने दूसरे जवान को मारी गोली, ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में मचा हड़कंप : सरेंडर नहीं करने की जवान ने कही बात

कटनी। अपने सीनियर को गोली मारने वाला आरोपित अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। आरोपित से लोगों की सुरक्षा के लिए ऑर्डिनेंस फेक्ट्री से लगे इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इससे पहले सुबह 19 जवान आए थे। इसके बाद तीन मिल्ट्री ट्रक जबलपुर से बुलवाए गए हैं। इनमें आए सैनिक नागरिकों की सुरक्षा के लिए ऑर्डिनेंस फैक्ट्री के चारों तरफ बाउंड्री से सौ मीटर की दूरी पर लगा दिए गए हैं ताकि जवान कूदकर भाग न सके। आर्डिनेंस फेक्ट्री कटनी में अपने सीनियर साथी को मौत के घाट उतारने वाले जवान को अब तक फेक्ट्री के अंदर नहीं ढूंढा जा सका है। जिस कमरे में उसके होने का संदेह है वहां पर पुलिस मौजूद है लेकिन किसी की हिम्मत नहीं हो रही क्योंकि आरोपी जवान के पास घातक इंसास रायफल है। पुलिस ने रात में सर्चिंग बंद कर दी थी। इसके बाद जबलपुर सैन्य मुख्यालय को खबर दी गई थी। आज सुबह सेना के वरिष्ठ अधिकारी तथा कुछ जवान कटनी पहुंचे।

कांग्रेस द्वारा बनवाये जा रहे ये कार्ड, अब मिल सकेगा लाखों रुपये का नि:शुल्क इलाज 

कहा जा रहा है कि सेना आरोपित को जीवित पकड़ना ही चाह रही है। उसे बेहोश कर पकड़ने पर विचार किया जा रहा है। इधर रात भर पुलिस की गश्त के बाद सुबह पूरे इलाके में भारी सुरक्षा की गई है। आरोपी जवान सकर सिंह की तरफ से रात भर ऐसी कोई हरकत भी नहीं हुई। इससे तय हो सके कि वह कहां पर छिपा है। आयुध निर्माणी काफी बड़ी है इसमे एक व्यक्ति को ढूंढना आसान काम नहीं है। इस घटना के कारण कारण फेक्ट्री का पूरा काम भी ठप है। इससे पहले कर्नल दीपांक मोहन ने भी फेक्ट्री परिसर में मौजूद आरोपित जवान शकर सिंह से फोन पर बाद की थी। लेकिन जवान ने सरेंडर नहीं करने की बात कही थी।

ड्रोन की मदद से चली सर्चिंग

सेना और पुलिस का जॉइंट ऑपरेशन चालू ड्रोन कैमरा की मदद से जवान की की जाती रही लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। राइफल हाथ में होने से सतर्कता के साथ ऑपरेशन किया जा रहा है।

यह था मामला

माधवनगर थाना अंतर्गत आयुध निर्माणी में एक जवान ने दूसरे जवान को गोली मार दी। इस घटना में एक जवान की मौत हो गई है। आरोपित जवान ने कमरा बंद कर लिया। बाद में उसके परिसर में ही ही कहीं गुम हो गया। रायफल में अभी कई राऊंड गोली होने की खबर से आयुध निर्माणी में सनसनी मची है। दोनों जवान डीएससी प्लाटून ओएफके हैं। जवान ने दूसरे जवान को गोली ऑर्डिनेंस फेक्ट्री गेट के अंदर परिसर में मारी है। इसके बाद उसने वहीं बने एक कमरे में खुद को बंद कर लिया है। पुलिस मौके पर मौजूद है। जवान अभी आत्मसमर्पण के लिए तैयार नहीं है। उससे बात करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

बड़ा खुलासा : हथियारों का जखीरा देख पुलिस के उड़े होश, चार आरोपी को किया गिरफ्तार

सीएसपी शशिकांत शुक्ला ने बताया कि ओएफके में डीएससी के एक जवान ने दूसरे जवान को गोली मारी है। आरोपित जवान का पद हवलदार है। उसका नाम हरक सिंह (54) है। आरोपित जवान जखानी बागेश्वर जिला बागेश्वर उत्तरांचल है। आरोपित के पास 20 राउंड लोडेड रायफल है। मृतक जिसे गोली लगी है उसका नाम अशोक कुमार शिकार पिता बलवीर सिंह(45) निवासी ग्राम लड़वारा थाना बहादुरगढ़ जिला रोहतक हरियाणा है। यह ऑर्डिनेंस फेक्ट्री में नायब सूबेदार जेसीओ पद पर था। यह भी खबर है कि इवनिंग परेड के दौरान दोनों में विवाद हो गया था।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.