MP : पीएससी द्वारा घोषित राज्य सेवा परीक्षा 2020 का सिलेबस जारी : परीक्षा में सफल होने के लिए 40 प्रतिशत अंक अनिवार्य

  

इंदौर। पीएससी द्वारा घोषित राज्य सेवा परीक्षा 2020 का सिलेबस जारी कर दिया गया है। आयोग ने प्रारंभिक परीक्षा के साथ मुख्य परीक्षा का सिलेबस भी जारी किया है। प्रारंभिक परीक्षा के दोनों प्रश्न पत्रों सामान्य अध्ययन और सामान्य अभिरुचि का पाठ्यक्रम जारी किया है। प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने के लिए दोनों ही प्रश्न पत्रों में 40 प्रतिशत अंक अनिवार्य किए गए हैं। हालांकि दूसरे प्रश्न पत्र सामान्य अभिरुचि को क्वालिफाइंग किया गया है, यानी उसके अंक मेरिट तैयार करने में नहीं जोड़े जाएंगे।

मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा पढ़ रहे हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर पथराव, 12 से ज्यादा घायल, सात पत्थरबाजों की पहचान

पीएससी हर वर्ष राज्य सेवा परीक्षा की घोषणा के साथ ही सिलेबस जारी कर देता है। हालांकि इस बार परीक्षा के विज्ञापन से अलग सिलेबस जारी किया गया। प्रारंभिक परीक्षा के पहले प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन को 10 इकाइयों में बांटा गया है, जबकि सामान्य अभिरुचि को सात में। मुख्य परीक्षा के छह प्रश्न पत्रों में विज्ञान, भूगोल, समाज शास्त्र से लेकर राजनीति शास्त्र, भाषा, सूचना प्रोद्योगिकी, संविधान, मप्र की राजनीतिक व्यवस्था को भी शामिल किया गया है। 

21 साल से कम उम्र के लोगों को शराब नहीं बेच सकेंगे दुकानदार

खास बात ये है कि प्रदेश में कमलनाथ सरकार बनने के बाद पीएससी के सिलेबस संशोधन किया गया था। राजनीतिक विचारकों की सूची में राज्य सेवा में कांग्रेस सरकार ने पंडित नेहरू का नाम भी जोड़ा गया था। इसके पहले भाजपा सरकार के समय प्रथम प्रधानमंत्री नेहरू को राज्यसेवा के पाठ्यक्रम में जगह नहीं दी गई थी। हालांकि प्रदेश में अब फिर से भाजपा सरकार आ गई है लेकिन राज्य सेवा परीक्षा 2020 के सिलेबस में परिवर्तन नहीं किया गया। पंडित नेहरू के साथ सरदार पटेल, महात्मा गांधी से लेकर दीनदयाल उपाध्याय और डॉ. आंबेडकर की जगह भी बरकरार है।

Powered by Blogger.