ब्रिटेन में फिर लगा देशव्यापी लॉकडाउन, नए स्ट्रेन से बढ़ी दहशत

कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. वहीं, कोरोना के नए स्ट्रेन से भी कई देश अब प्रभावित हो रहे हैं. इस बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने राष्ट्र को संबोधित कर देश में लगे वर्तमान प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया. प्रधानमंत्री ने कड़े प्रतिबंधों की घोषणा की है. इसके तहत उन्होंने स्कूलों को भी बंद करने का फैसला लिया. उन्होंने बताया कि कोरोना का नया स्ट्रेन अधिक खतरनाक है. लॉकडाउन के इस फैसले से लोगों की जिंदगियां बच सकती है.

दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने बताए वैक्‍सीन के दाम : जानिये कितने रुपए करना होगा खर्च

पीएम जॉनसन ने लॉकडाउन को लेकर रणनीति भी बनाई है. उन्होंने अतिसंवेदनशील इलाकों के लोगों से अधिक सावधानी बरतने की अपील की. उन्होंने लोगों से कहा कि अगर जरूरत न हो तो अपने-अपने घरों में ही रहें. मास्क का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें. पीएम ने कहा कि कुछ हफ्तों तक देश में कड़ा नियम लागू करना होगा, तभी नए स्ट्रेन को कंट्रोल किया जा सकता है. उन्होंने चिंता जताई कि कोरोना वायरस संक्रमण अब देश में बहुत तेजी से फैल रहा है. गौरतलब है कि पिछले मंगलवार को देश में महज 24 घंटे में कोरोना के 80000 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए थे.

ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन, काफी खतरनाक होने से बढ़ी चिंता, अब तक 30 से अधिक देशों में फैला

पीएम ने कहा- ये समय एकजुट होकर कोरोना के नए स्ट्रेन पर नियंत्रण पाने का है. हम जल्द ही इसपर नियंत्रण पा लेंगे. उन्होंने लोगों से धैर्य बनाए रखने की अपील की और कहा कि फरवरी के महीने तक इस वायरस पर नियंत्रण पा लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस समय उनकी सरकार लोगों की जिंदगियां बचाना चाहती है और उनके हित को देखते हुए लॉकडाउन लगाने जा रही है.

Powered by Blogger.