REWA : सिरफिरे आशिक का ख़त्म हुआ हाईबोल्टेज ड्रामा : पहले भी गन प्वाइंट पर एक्ट्रेस को बना चुका है बंधक

रीवा। दो साल पहले भोपाल स्थित होटल के एक कमरे में कट्टे की नोक पर 13 घंटे तक युवती को बंधक बनाकर पुलिस टीम पर हमला करने वाले सिरफिरे आशिक को रीवा की सामान थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दो साल के बाद आरोपी युवक रीवा में दोबारा उसी तरह की वारदात को अंजाम देने की फिराक में था।

दांपत्य जीवन को बनाना चाहते हैं और अधिक खुशहाल, तो नए साल में कपल्स जरूर लें ये संकल्प.

आरोपी रीवा के आजाद नगर स्थित एक घर में एक युवती व उसकी मां को कट्टे की नोक पर बंधक बना लिया। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने 3 घंटे की कड़ी मसक्कत के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। जिसके पास से एक देशी कट्टा व 3 जिंदा कारतूस भी पुलिस ने बरामद किया है।

अपनी प्रेमिका को प्रपोज करना पड़ा प्रेमी को भारी,  खुशी में फिसला लड़की का पैर और..

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ का रहने वाला आरोपी रोहित सिंह रीगल एक आदतन अपराधी है। दो वर्ष पूर्व भोपाल स्थित होटल के एक कमरे में 13 घंटे मॉडलिंग करने वाली विभा श्रीवास्तव को चाकू की नोंक पर बंधक बनाकर रखा था। जिसके बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस की टीम पर भी आरोपी युवक द्वारा हमला किया गया था। और 13 घंटे बीत जाने के बाद मॉडल लड़की को सकुशल छुड़ा पाने में पुलिस को सफलता प्राप्त हुई थी। जिसके बाद आरोपी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। दो साल के बाद रीवा में फिर उसी वारदात को दोहने वाला था। लेकिन पुलिस की सक्रियता उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

मेकअप आर्टिस्ट लड़कियों को बनाता था शिकार

ये हैं वो 10 उम्मीदें, जो हर पत्नी अपने पति से रखती है 

आरोपी युवक सोशल मीडिया के माध्यम से खुद को मेकअप आर्टिस्ट बताता था और मेकअप में अपनी रुची रखने वाली लडकियों को वह अपना निशाना बनाता था। रीवा के सामान थाना स्थित आजाद नगर निवासी पुष्पेंद्र सिंह पटेल के मकान में किराए से रहने वाली महिला की 21 वर्षिय युवती से आरोपी युवक का संपर्क हो गया और अचानक आरोपी युवती से मिलने रीवा पहुंचा। अतिथि होटल में रूम लेकर पीड़िता के घर पहुंच गया जहां पर आरोपी ने कट्टे की नोक पर पीड़िता और उसकी मां को बंधक बना लिया। पीड़ित परिवार लगभग 3 घंटे तक बंधक बना रहा। जिसके बाद एक पुकार सुनते हुए आसपास के लोगों ने तुरंत ही पुलिस की टीम को सूचना दी तब मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार किया। इस दौरान आरोपी को पकड़ने पुलिस टीम पर आरोपी युवक ने फायरिंग कर दी। हालांकि गोली नहीं होने के कारण बड़ी वारदात टल गई।

Powered by Blogger.