REWA : हथियारों से लेस आधा दर्जन से ज्यादा की संख्या में आरोपियों ने घर में घुसकर दो सगे भाइयों के ऊपर बोला हमला

Telegram

    

ऋतुराज द्विवेदी,रीवा। बोदाबाग  सौरभ नगर में आधा दर्जन से ज्यादा की संख्या में आरोपीयो ने दो सगे भाइयों के  ऊपर घर मे दाखिल होकर किया जानलेवा हमला बीती रात की घटना। यूनिवर्सिटी थाना क्षेत्र का मामला एक कि हालत गंभीर दूसरा घायल लाठी , डंडे, रॉड , पेचकस से किया गया हमला जान से मारने की नियत से घर मे घुसे थे आरोपी। 

कॉलेज चौराहे के पास फुटपाथ पर ऑनलाइन काम करने वाले युवाओं को हटाया, बेरोजगार युवक पहुंचे विधायक राजेन्द्र शुक्ल के घर

रीवा जिला अपराध का गढ़ बन चुका है चाकू बाजी , लूट, मर्डर , रेप जैसी वारदाते हुई आम अपराधियो को नही रहा पुलिस का खौफ हम बात कर रहे रीवा के यूनिवर्सिटी थाना के बोदाबाग सौरभ नगर की जहा बिगत दिनाँक 28-2-2021 की रात्रि को खाना बना रहे दो भाइयों के ऊपर विकाश तिवारी नाम के युवक ने अपने आधादर्जन साथियों के साथ मिलकर घर पहुचा और दरबाजा खोलबाने का प्रयास किये जब घायलो ने गाली गुप्ता की आवाज सुनी तो दरबाजा नही खोला और जिसके बाद आरोपीयो ने दरबाजे को तोड़ने की नियत से दरबाजे में लात डंडे मारना शुरू कर दिए और दरबाजा अपने आप खुल गया तो विकाश तिवारी नाम के आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर युवक के ऊपर लाठी , डंडे, रॉड एवं पेचकस से टूट परे जब दूसरे भाई ने चिल्लाने की आवाज सुनी तो आकर देखा की उसके भाई को मार रहे है जिसके बाद बीच बचाव का प्रयास किया जिसमें आरोपियो ने दूसरे भाई के ऊपर भी जानलेबा हमला कर दिया। 

अमहिया पुलिस ने किया खुलासा : लूट के इरादे से हत्या करने वाला आरोपी गिरफ्तार

दोनो भाई लहूलुहान होकर विहोश हो गए जिसमें एक भाई की हालत बहुत ही नाजुक बनी हुई है । मोहल्ले के स्थानीय लोगो ने जब घायल की चीखपुकार सुनी तो डायल 100  पुलिस को जानकारी दी हमलावर दोनो भाइयों को बिहोसी की हालत में मरा समझकर छोड़कर वारदात को अंजाम देकर भाग गए दोनो घायलो को गंभीर हालत में डायल 100 पुलिस की मदत से उपचार हेतु संजय गांधी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जहा उनकी हालत गंभीर बनी हुई है घायलो के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि अभी तक पुलिस ने आरोपियो को गिरफ्तार नही किया है आरोपी जान से खत्म कर देने की धमकी दे रहे है । 

रीवा में बोले कमलनाथ कहा- माफिया से थी मध्य प्रदेश की पहचान, नौजवानों को प्रदेश में रोजगार मिले, मैने इसे बदलने की कोशिश की

कही न  कही रीवा पुलिस की कार्यशैली पर कई सवाल खड़े हो रहे है बिगत 8 महीनों से आखिर क्या बजह है कि रीवा एसपी रॉकेश सिंह अपराधियो पर लगाम नही लगा पा रहे है , क्या अब रीवा पुलिस पर अपराधी हावी है ।


प्रशासन और भाजपा नेता मेरा घर गिराने की साजिश रच रहें है : संजय त्रिपाठी

अगर नही तो पुलिस ने जान से मारने की कोशिश करने वाले आरोपियो की गिरफ्तारी अब तक क्यो नही की क्या किसी राजनेताओं का इन आरोपियो को सरक्षण मिला हुआ जिसमें पुलिस आरोपियो को पकड़ने असफल साबित हो रही है. आखिर कब मिलेंगे रीवा को आबिद खान जैसे पुलिस अधीक्षक कब रीवा जिला होगा अपराध मुक्त । 

श्रीनिवास तिवारी को हराकर सुर्खियों में आए गिरीश गौतम, 18 साल का इंतजार : अब मिला मीठा-फल : ऐसा रहा राजनीतिक सफर

इस तरह की वारदातों से ऐसा लग रहा है कि जिले के थाना प्रभारी व पुलिस को नही रहा एसपी का खौफ , अगर जरा सा भी खौफ होता तो रीवा जिले में अपराधी इतने हॉबी न होते की किसी भी मोहल्ले व  घरों में दाखिल होकर किसी को जान से मारदेने की कोशिस करते है ।

माफियाओं के विरूद्ध लगातार कार्यवाही जारी : प्रशासन ने लगभग एक करोड़ रूपये की भूमि से हटाया अवैध कब्जा


लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए REWA NEWS MEDIA फेसबुक पेज लाइक करें

Powered by Blogger.