SATNA : सीधी बस हादसे के बाद भी सीख नहीं ले रहे वाहन संचालक, मालवाहक वाहन में ठूंस-ठूंसकर बैठाई जा रही सवारी

सतना। जिले में वाहनों में ओवरलोडिंग और अवैध परिवहन का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक ओर परिवहन विभाग द्वारा ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है दूसरी ओर सड़क में मालवाहक वाहनों में भी ठूंस ठूंसकर सवारियों को बैठकर सड़कों में फर्राटा भरा जा रहा है। लेकिन इन पर कार्रवाई होने के अलावा परिवहन विभाग द्वारा कागजी तौर पर कार्रवाई की जा रही हैं। 

नायब तहसीलदार को लोकायुक्त पुलिस ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

जिन बस और बड़े ट्रकों को जब्त भी किया जा रहा है तो उनसे मात्र टैक्स और मामूली जुर्माना वसूलकर छोड़ दिया जा रहा है। आज भी सीधी बस हादसे का सबक जिले का परिवहन विभाग और वाहन संचालकों द्वारा नहीं लिया गया है। यही कारण है कि सड़कों में ऐसे वाहन नजर आ रहे हैं जो मालवाहक हैं और उनमें सवारियां ढोई जा रही हैं। रविवार को रामनगर में ही वाहन वाहन जिसमें सामान भी लोड था वह सवारी भी लोड कर ढो रहे थे।

फिर सस्ता हुआ पेट्रोल और डीजल, जानिए आज 30 मार्च को अपने शहर का भाव...

जरा सी चूक से जा सकती है दर्जनों की जान

रामनगर में ओवर लोडिंग वाहन देखकर यह अंदाजा साफ लगाया जा सकता है कि वाहन चालक ने किस कदर सवारियों को ठूंस-ठूंसकर ऊपर और अंदर भरा है। इसके साथ ही इस छोटा हाथी लोडर वाहन में सामान भी लोड है। यह वाहन रामनगर से जिगना की ओर गया जो कि सानिया लोडिंग के नाम से संचालित हो रहा है। लोगों को भरकर ले जा रहा यह वाहन कभी भी दुर्घटनाग्रस्त हो सकता है। जिसकी तरफ परिवहन विभाग और पुलिस की नजर भी नहीं गई। शहर में ऐसे सैकड़ो वाहन दिनभर में गुजर जाते हैं जिन्हें देखकर भी जिम्मेदार लोग अनदेखा कर देते हैं।

सरकार बेखबर : सतना जिला अस्पताल में मोबाइल की लाइट पर तैयार होती है कोरोना जांच रिपोर्ट; CMHO बोले- इसे पॉजिटिव लेना चाहिए

Powered by Blogger.