MP : देवर के प्यार में पागल महिला ने 5 साल पहले पति की हत्या करके दफनाया, फिर अब बेटे के साथ मिलकर देवर को भी मारकर शव नदी किनारे फेंका

राजधानी के कोलार इलाके में युवक के शव को सूअरों द्वारा नोंचे जाने के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। युवक को उसी की भाभी उर्मिला मीणा ने अपने नाबालिग बेटे के साथ मिलकर मारा है। इसके बाद शव कलियासोत नदी किनारे फेंक दिया। महिला ने पूछताछ के दौरान बताया, 5 साल पहले इसी देवर के प्यार में उसने पति की हत्या कर दी थी। यही नहीं, जिस घर में दोनों ने पति को दफनाया, वह उसमें अब तक रह भी रही थी। पुलिस ने महिला की निशानदेही पर पति का कंकाल भी घर में से खोदकर निकाल लिया।

प्रदेश के 6 मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर 31 मई को करेंगे इमरजेंसी ड्यूटी बंद, आश्वासन के 23 दिन बाद भी मांगे पूरी नहीं की

कोलार पुलिस को शुक्रवार सुबह कलियासोत नदी किनारे स्थित अमरनाथ कॉलोनी के पास एक शव को सूअरों द्वारा नोंचे जाने की सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया। उसके चेहरे और शरीर के निचले हिस्से को सूअरों ने खा लिया था। मृतक के कपड़ों से उसकी पहचान दामखेड़ा निवासी मोहन मीणा (25) के रूप में हुई। मामले को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी। मामले में पुलिस ने उर्मिला मीणा, राजेश वाल्मीकि और उर्मिला के नाबालिग बेटे को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

गाइडलाइन जारी : एक जून से पुनः जीवन यापन की गतिविधियों को पटरी पर लाने शासन ने दी अनुमति : क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप तय करेंगे क्या खुलेगा और क्या नहीं

जानकारी के मुताबिक 5 साल पहले उर्मिला, उसका पति, देवर मोहन मीणा, बेटे-बेटी के साथ कोलार के दामखेड़ा झुग्गी में रहती थी। उर्मिला ने पूछताछ में बताया, उसका पति विकलांग था। इस कारण वह उसे पसंद नहीं करती थी। इसके चलते मोहन के साथ उसके अवैध संबंध बन गए थे। यह बात पति को पता चल गई थी। इसके चलते रास्ते से हटाने के लिए 5 साल पहले ही मोहन के साथ मिलकर पति के सिर पर पत्थर मार कर हत्या कर दी थी। इसके बाद दोनों ने मिलकर शव को घर में ही दफना दिया था। वारदात के बाद दोनों बच्चों के साथ उसी घर में रहने लगे। लोगों से कह दिया कि पति कहीं बाहर चले गए हैँ।

15 जून के बाद UNLOCK की नई गाइडलाइन, 40 दिन से ज्यादा समय से बंद भोपाल और इंदौर राहत देने की आशंका : 11 से 5 बजे तक बाजार खुलने की सिफारिश

देवर आए दिन करता था विवाद

महिला ने पूछताछ में बताया कि पति की मौत के बाद सामान्य जीवन चलने लगा। कुछ दिनों बाद उर्मिला और मोहन में झगड़े शुरू हो गए। मोहन आए दिन विवाद करता था। उसकी दूसरी महिला से अवैध संबंध थे। महिला ने बताया कि उसको यह बात पंसद नहीं थी। गुरुवार रात को भी घर में विवाद हुआ। इसके बाद बेटे और महिला ने मोहन मीणा की हत्या कर दी। फिर शव को ठेले पर रखकर परिचित राजेश वाल्मीकि की मदद से कलियासोत नदी किनारे स्थित अमरनाथ कॉलोनी के पास फेंक दिया। फिलहाल, पुलिस मामले में जांच कर रही है।

Powered by Blogger.