MP : शादी के पहले दुल्हन लापता, नाराज दूल्हे ने शादी कराने वाले बिचौलियों की मारपीट कर चलती गाड़ी से फेंक दिया


भोपाल। बैरसिया थाना क्षेत्र में युवक की हत्या का मामला सामने आया है। चलती हुई जीप से दो लोगों को मारपीट कर फेंक दिया गया। इनमें से एक की इलाज के दौरान रविवार को मौत हो गई, जबकि एक गंभीर रूप से घायल है। युवक ने आरोपियों में से एक की शादी सागर में तय करवाई थी। गत 7 अप्रैल को बारात लेकर पहुंचे, तो आरोपियों को न तो वहां मंडप मिला और न ही दुल्हान और उसके परिजनों को पता था। इसी को लेकर दूल्हे समेत अन्य आरोपियों ने चलती जीप से दोनों को फेंक दिया था।

मरीजों का हौसला बढ़ाने PPE किट में डॉक्टर ने गाया- आने से उसके आए बहार...बड़ी मस्तानी है मेरी महबूबा...

बैरसिया SDOP कृष्ण कुमार वर्मा ने बताया, सीहोर के अहमदपुर निवासी जगदीश मैहर (26) पिता प्रताप सिंह मैहर ने वहीं के देवकरण की शादी सागर में पक्की करवाई थी। बताया जाता है, जगदीश ने 2 लाख रुपए लिए थे। 7 अप्रैल को देवकरण अपने रिश्तेदारों में मांगीलाल, चिरोंजीलाल और रामप्रसाद के साथ कार से सागर पहुंचा। उनके साथ जगदीश मैहर (26) और हेमराज मैहर (25) साथ में थे।

दिल दहला देने वाली घटना / कोरोना संक्रमण का इलाज करा रहे पति के मौत की खबर मिलते ही पत्नी ने नौवीं मंजिल से कूदकर दी जान

बारात सागर पहुंची, तो वहां दुल्हन और उसका परिवार कोई भी बताई जगह पर नहीं मिला। इससे देवकरण समेत रिश्तेदार मांगीलाल, चिरोंजीलाल और रामप्रसाद नाराज हो गए। उनका कहना था, हमारे दो लाख रुपए और गाड़ी का भाड़ा लग गया, लेकिन शादी नहीं हुई। जगदीश ने भी लड़की के बारे में पता करने का प्रयास किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। इसे लेकर दोनों के बीच बहस भी हुई। सभी वहां से घर के लिए रवाना हो गए।

बड़ी कार्यवाही : रीवा के युवक ने इंदौर में फैलाया बड़ा गिरोह; TRS कालेज में पढ़ चुका है आरोपी, नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाले फार्महाउस पर पुलिस का छापा

एक महीने बाद की रिपोर्ट

SDOP वर्मा ने बताया कि मामला एक महीने पुराना है। इसमें नजीराबाद में रहले वाले घायल हेमराज ने बताया कि देवकरण, मांगीलाल, चिरोंजीलाल और रामप्रसाद चारों मिलकर जगदीश और मुझसे चलती कार में मारपीट करते रहे। इसके बाद बैरसिया से करीब 5 किमी पहले गांव हबीबगंज सरखंडी और पिपलिया हस्नाबाद के बीच आरोपियों ने जगदीश और मुझे चलती कार में से बाहर फेंक दिया।

रीवा का मास्टर माइंड युवक इंदौर में करता था रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी, FB से लोगों की पोस्ट पढ़ 40 हजार में ग्राहकों को बेचें

लोगों ने उन्हें एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया। इलाज के दौरान जगदीश ने रविवार को दम तोड़ दिया। हेमराज की हालत नाजुक है। पुलिस ने जांच के बाद मामला दर्ज करते हुए मांगीलाल को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी देवकरण, चिरोंजीलाल और रामप्रसाद की तलाश कर रही है।

Powered by Blogger.