MP : मानसून की दस्तक : 20 जून के बाद जमकर बारिश की संभावना : लगातार तीन- चार दिन से हवा का रुख बना

इंदौर। पिछले दो दिन हुई तेज बारिश के अगले ही दिन शुक्रवार को मौसम विभाग ने इंदौर में मानसून की दस्तक की घोषणा कर दी। दक्षिण-पश्चिम मानसून तय समय 20 जून से दो दिन पहले ही आ गया। लगातार तीन से चार दिन से हवा का रुख दक्षिण-पश्चिम बना हुआ था। तापमान में भी लगातार कमी आ रही थी। रुक-रुक कर बारिश भी हो रही थी। इन सभी को देखकर मानसून सक्रिय होने की घोषणा कर दी गई। मौसम विभाग की मानें, तो 20 जून के बाद इंदौर सहित मालवा-निमाड़ में बारिश जोर पकड़ेगी।

नामजद गुनहगारों ने SIT के सामने जुर्म किये स्वीकार : रीवा के सुरेश ने 1200 इंजेक्शन फार्मा कंपनी के संचालकों से खरीदकर जबलपुर-इंदौर में बेचे : फिर ...

मौसम विशेषज्ञ जीडी मिश्रा ने बताया, बंगाल की खाड़ी में मजबूत सिस्टम बन रहा है। अरब सागर की ओर से भी हल्की नमी आ रही है। इस कारण अगले 24 घंटे में मानसून पूरी तरह से मप्र को कवर कर लेगा। हालांकि बारिश की शुरुआत पूर्वी मध्यप्रदेश से होगी। यहां अच्छी बारिश की संभावना है। यह सिस्टम मालवा-निमाड़ को भी भिगोएगा। हालांकि इंदौर में मानसून की दस्तक अरब सागर की ओर से माना जाता है, लेकिन पिछले दो साल से मानसून बंगाल की खाड़ी से दस्तक दे रहा है। पिछले साल भी इंदौर में अच्छी बारिश हुई थी। आंकड़ा का करीब 50 फीसदी तक पहुंच गया था।

राज्य सरकार कर्मचारियों को बड़ी राहत : 1 से 31 जुलाई तक होंगे ट्रांसफर : नई पॉलिसी में कोरोना से गंभीर बीमार हुए सरकारी कर्मी को तबादले में प्राथमिकता मिलेगी

मौसम विभाग की मानें, तो निम्न दाब का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिमी बिहार और दक्षिण-पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर सक्रिय बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के साथ इसके शनिवार तक मप्र और उप्र के अन्य क्षेत्रों में सक्रिय होने की संभावना बनी हुई है। खासकर बड़वानी, खरगोन, इंदौर, अलीराजपुर, झाबुआ, देवास, आगर, उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, राजगढ़, गुना, अशोकनगर, टीकमगढ़, निवारी और झांसी जिलों में ज्यादा सक्रिय हो रहा है। मानसून गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ हिस्सों में भी आगे बढ़ रहा है।

झुकने को तैयार नहीं अफसर : सुर्खियों में है IAS लोकेश जांगिड़ : कहा- 'ईमानदारी महंगा शौक है, यह हर किसी के बस का नहीं'

शहर एक, बारिश के आंकड़े तीन

पूर्वी क्षेत्र में 3 घंटे में 3 इंच गिरा पानी, एयरपोर्ट क्षेत्र में सिर्फ 2.8 मिमी तो कृषि कॉलेज में 2 इंच बरसा। बुधवार रात साढ़े 11 बजे से पूर्वी इंदौर में इतनी तेज बारिश हुई की महज 3 घंटे में 3.3 इंच पानी बरस गया। इसी समय एयरपोर्ट से लेकर, राजेंद्र नगर, महू नाका तक के हिस्से में केवल 2.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई।

MP में एक बार फिर स्कूल खुलने की शुरुआत : सिर्फ शिक्षकों और कर्मचारियों को आना अनिवार्य : छात्रों के लिए चलेगी ऑनलाइन क्लास

इंदौर में अब तक 38 मिमी बारिश रिकॉर्ड

बारिश का चक्र 1 जून से लेकर 3 अक्टूबर तक का रहता है। ऐसे में इस सीजन में अब तक इंदौर में 38 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई है। गुरुवार को भी 3.6 मिमी बारिश हुई थी। शहर में अधिकतम तापमान 35.2 डिग्री जबकि न्यूनतम पारा 22.5 डिग्री रिकॉर्ड हुआ।

मानसून की दस्तक : रीवा, सतना समेत प्रदेश के सभी हिस्सो में आज झमाझम बारिश की संभावना

साल तारीख

2011 22 जून

2012 03 जून

2013 10 जून

2014 10 जून

2015 14 जून

2016 21 जून

2017 26 जून

2018 24 जून

2019 25 जून

2020 14 जून

2021 18 जून

Powered by Blogger.