REWA : मानसून के आते ही प्रशासन एलर्ट : बारिश ने खोली निगम के पानी निकासी व्यवस्था की पोल, जिला हुआ पानी-पानी, मोर्चा संभालने मौके पर उतरे कलेक्टर

रीवा. मानसून ने शुरूआती दौर में ही जिले को पानी-पानी कर दिया है। पूरा शहर तकरीबन जलभराव से जूझ रहा है। बरसात का पानी घरों प्रवेश कर गया है। रास्ता चलना मुश्किल हो रहा है। नदियां उफान पर हैं।

सावधान : हाईटेक ठगों ने डॉक्टर को सिम वेरीफिकेशन के जाल में फसकर लगाया 6 लाख का चूना

बुकिया बांध

बारिश के चलते शहर के कई मोहल्लों में पानी भर गया जिससे लोग परेशान हैं। जगह-जगह बने बड़े गड्ढों का पता ही नहीं चल रहा। ऐसे में वाहन चालकों का अच्छी खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। पानी भरा होने के कारण गड्डा दिख नहीं रहा ऐसे में वाहन चाहे वो दो पहिया हो या चार पहिया उन गड्ढों में समा जा रहे।

हो जाये सावधान : शादी समारोह में बारातियों को नागिन डांस करना पड़ा महंगा, वीडियो वायरल होने पर दर्ज हुआ मामला

बारिश के बीच गड्ढे में फंसी कार

रानीतालाब, सिंधी कालोनी के पास सड़क के बीच बने गड्ढे में एक चार पहिया वाहन धंस गया। बताया गया है कि सड़क के बीच यह गड्ढा लंबे समय से बना हुआ है लेकिन पाटने की जहमत जिम्मेदारों ने नहीं उठाई।

रीवा में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल : UP बाॅर्डर पर पेट्रोल के दाम 95.84 रुपए, रीवा के सोहागी में 108 रुपए प्रतिलीटर, 13 रुपए के अंतर से बढ़ी कालाबाजारी

बुकिया बांध

लगातार हो रही बारिश से बकिया बांध का जल स्तर बढ़ गया है। अब इस बांध के गेट खोलने की तैयारी चल रही है। इसके लिए सेमरिया व सिरमौर थाने को एलर्ट किया गया है। साथ ही टमस नदी के आसपास बसे लोगों को सतर्क किया गया है। बकिया बांध का गेट खुलने से टमस का जल स्तर बढ़ने की आशंका है। इसका सीधा असर तराई अंचल पर पड़ेगा।

विकास का अनोखा अनुभव, पानी की जगह नव निर्मित नाला ही बह गया

नगर निगम अधिकारियों की कृपा से रीवा शहर का विकास एक अलग परिणाम देता है,यह पानी निकालने के लिए बनाया गया नव निर्मित नाला ही बह गया,यह नाला महाराज बांध से बंधन मैरिज गार्डन के पीछे से फूलमती मंदिर की तरफ बनाया जा रहा था,लेकिन पानी गिरने से पहले ही नाला बह गया,उसकी सभी दीवारें भर-भरा कर पाल पैलेस के पीछे वाले नाले में बह कर पहुंच गया,, अब विकास है यह कितना कारगर है यह जब बीच सड़क पर बने सीवर लाइन के चेम्बर में लोगों की गाड़ियां फंसेगी लोग दुर्घटना ग्रस्त होंगे तब असली विकास सामने आयेगा

नामजद गुनहगारों ने SIT के सामने जुर्म किये स्वीकार : रीवा के सुरेश ने 1200 इंजेक्शन फार्मा कंपनी के संचालकों से खरीदकर जबलपुर-इंदौर में बेचे : फिर ...

बारिश के चलते नदियों का जल स्तर भी बढ़ रहा है। बाढ़ की संभावना को लेकर प्रशासन एलर्ट है। रीवा में बाढ़ का सबसे ज्यादा खतरा तराई अंचल के त्योंथर क्षेत्र में रहता है। टमस नदी के जल स्तर पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। प्रशासन किसी भी स्थिति से निपटने के लिये तैयार है।

जिले की वीआईपी कॉलोनी नेहरू नगर का हाल जब भी वीआईपी कॉलोनी में यह हाल है तो बाकी जगह क्या होगा।

Powered by Blogger.