MP : सिपाही का दो युवतियाें के साथ अश्लील डांस करते VIDEO वायरल , अर्धनग्न अवस्था में बदमाश के साथ मे लगाए ठुमके : सस्पेंड


गुना जिले में एक कांस्टेबल का दो युवतियाें के साथ अश्लील डांस करते हुए वीडियो सामने आया है। कांस्टेबल के साथ एक अपहरण कांड का मुख्य आरोपी भी ठुमके लगाते हुए दिख रहा है। यह वीडियो 4 वर्ष पुराना बताया जा रहा है। एसपी ने आरक्षक को सस्पेंड कर जांच बिठा दी है।

जान देकर निभाया साथ : सड़क दुर्घटना में कार में पति को जिंदा जलते देखा फिर सदमे में खुद भी 35 दिन बाद लगा ली फांसी

वर्तमान में सिटी कोतवाली का कांस्टेबल विनीत भरद्वाज 3 वर्ष पहले तक धरनावदा थाने में तैनात था। वायरल वीडियो उसी समय का बताया जा रहा है। वीडियो में कांस्टेबल अर्धनग्न अवस्था में डांस करते हुए दिख रहा है। साथ में दो युवतियां भी नजर रही हैं। वहीं गाडी के बोनट पर रखे शराब के ग्लास भी वायरल वीडियो में नजर आ रहे हैं।

ट्विटर को अल्टीमेटम : नए नियम लागू नहीं करने से सरकार नाराज, कहा- आखिरी मौका दे रहे, कार्रवाई के लिए आप खुद जिम्मेदार होंगे

वीडियो के वायरल होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। इतने वर्षों बाद वायरल हुए वीडियो ने सबको अचंभित कर दिया। हैरानी की बात है की वीडियो में कांस्टेबल के साथ एक अपराधी भी नाचते हुए दिख रहा है। यह अपराधी रघु तोमर बताया जा रहा है। रघु जिले में हुए हाई प्रोफाइल आत्माराम पारदी अपहरण कांड का मुख्य आरोपी है।

ट्विटर को अल्टीमेटम : नए नियम लागू नहीं करने से सरकार नाराज, कहा- आखिरी मौका दे रहे, कार्रवाई के लिए आप खुद जिम्मेदार होंगे

वायरल वीडियो का मामला संज्ञान में आते ही एसपी ने मामले में जांच बिठा दी है। साथ ही प्रथम दृष्टया आरक्षक विनीत भरद्वाज को निलंबित कर दिया गया है। एसपी ने बताया की कोतवाली टीआई की रिपोर्ट पर यह कार्रवाई की गई है। आगे जांच की जाएगी। जांच में जो भी और बातें आएंगी वो फाइल कर दी जाएंगी।

हत्या का खुलासा : पत्नी के साथ गलत काम करना चाहता था चाैकीदार, इसलिए सिर में डंडा मारा, बाद में पत्नी ने चाकू से किए वार

ये था आत्माराम पारदी अपहरण कांड

पूर्व में 85 वर्षीय अप्पी बाई पत्नी हरीलाल ने 4 जनवरी 2017 को हाईकोर्ट में हैबियस कार्पस दायर की थी। इसमें उसने कहा था कि 9 जून 2015 को धरनावदा पुलिस थाने के एसआई रामवीर कुशवाह, आरक्षक योगेन्द्र सिसौदिया, रघुराज सिंह तोमर उर्फ रघु और बनिया ड्राइवर घर आकर उसके लड़के आत्माराम को अपने साथ ले गए थे। आज तक पुलिस उसे तलाश नहीं पाई है। पुलिस की इस कार्यशैली पर कई सवाल उठ खड़े हो गए। इसको लेकर जानकारों का कहना है कि पुलिस अपने ही विभाग के उन लोगों को बचाने का प्रयास कर रही है, जिन पर उसकी मां ने अपने पुत्र के अपहरण की आशंका जाहिर की है।

Powered by Blogger.