REWA : नवीन कलेक्टर गाइडलाइन : एक अगस्त से मंहगी हो जाएंगी जमीन की रजिस्ट्रियां : पढ़ ले ये खबर

रीवा. कोरोना काल के दौरान अनलॉक के बाद जमीन की रजिस्ट्रियों की रफ्तार बढ़ गई है। पंजीयन कार्यालय ने अकेले जून माह में 15 करोड़ रुपए से अधिक राजस्व कमाए। कोरोना काल में नई गाइड लाइन नहीं बढऩे से जमीन की रजिस्ट्रियां बढ़ गई है। सरकार ने 31 जुलाई तक पुरानी गाइड लाइन के तहत स्टांप ड्यूटी की छूट दी है। शासन के नवीन आदेश में एक अगस्त से नई गाइड लाइन लागू की जाएगी। नवीन गाइड लाइन में औसत 5 से 25 प्रतिशत तक स्टांप ड्यूटी बढ़ जाएगी। जिससे जमीन की रजिस्ट्रियां और मंहगी हो जाएंगी।

विधायकों ने प्रभारी मंत्री को घेरा : बैठक में कहा- बिजली और सड़क की स्थिति अच्छी नहीं प​ब्लिक करती है परेशान

औसत 25 से 30 फीसदी रजिस्ट्रियां महंगी

जिला मूल्यांकन समिति ने नवीन कलेक्टर गाइड लाइन का प्रस्ताव कोरोना काल के पहले बीते वित्तीय वर्ष के मार्च माह ही शासन को भेज दिया है। नए वित्तीय वर्ष में कोरोना काल के चलते नवीन गाइड लाइन लागू नहीं की जा सकी। बताया गया कि नवीन कलेक्टर गाइड लाइन में शहरी के पॉश एरिया समेत रिंग रोड के आस-पास एरिया सहित शहर के चोरहटा, हवाइट पट्टी सहित अन्य जगहों पर औसत 25 से 30 फीसदी रजिस्ट्रियां महंगी होने की संभावना है। जबकि जिला स्तर पर शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में औसत पांच से बीस फीसदी स्टांप ड्यूटी बढ़ जाएगी।

REWA RAID : सहायक भू सर्वेक्षण अधिकारी के चार अलग-अलग आवासों में छापामार कार्यवाही : सोने की ईंट सहित 4 से 5 करोड़ की संपत्ति मिली

जून माह में 15 करोड़ से अधिक राजस्व कमाए

पंजीयन कार्यालय में जून माह में रजिस्ट्रियां दो गुना से ज्यादा हुई। जून माह में पिछले साल की तुलना में 1118 रजिस्ट्रियां ज्यादा हुई हैं। पिछले साल जून माह में 2216 रजिस्ट्रियां हुई थी। जबकि इस साल जून में 3094 रजिस्ट्रियां हुईं। कुल मिलाकर इस साल अकेले जून माह में 15 करोड़ रुपए से अधिक राजस्व जुटाए। जुलाई में स्टांप ड्यूटी पुराने गाइड लाइन की छूट मिलने से रजिस्ट्रियां तेज हो गई हैं। प्रतिदिन 100 से अधिक रजिस्ट्रियां हो रही हैं। बीते साल की अपेक्षा इस साल जून में 48 प्रतिशत अधिक राजस्व जुटाया गया है।

विंध्य क्षेत्र के रीवा शहर को मिलेगी चौथे FLY OVER की सौगात, ढेकहा में चौथे का सर्वे शुरू : 90 करोड़ में प्रस्ताव तैयार

वर्जन...

अनलॉक के बाद जून से रजिस्ट्रियों की संख्या बढ़ी है। शासन की गाइड लाइन के तहत 31 जुलाई तक पुरानी गाइड लाइन के तहत स्टांप ड्यूटी के तहत रजिस्ट्रियां होंगी। एक अगस्त से नवीन कलेक्टर गाइड लाइन लागू होने के बाद नए दर से स्टांप ड्यूटी लगेगी।

रत्नेश भदौरिया, जिला पंजीयक

Powered by Blogger.