9 अगस्त से फिर प्रदेशभर के बस ऑपरेटरों ने दी अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी : 100 रुपए तक बढे डीजल के दाम, किराया नहीं बढ़ा तो बसों का संचालन करना मुश्किल

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

बस एसोसिएशन और ऑपरेटरों ने एक बार फिर से किराया बढ़ाने की मांग की है। मांग नहीं मानने पर 9 अगस्त से इंदौर सहित प्रदेशभर के बस ऑपरेटर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा सकते हैं। बस एसोसिएशन ने सरकार के समक्ष अपनी मांगाें काे रखते हुए कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कोरोना कर्फ्यू की अवधि का टैक्स माफ करने को भी कहा है।

काेरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर परिवहन विभाग की तैयारी शुरू : 100 टैंकर चालकों को आक्सीजन टैंकर चलाने की दी जाएगी ट्रेनिंग

प्राइम रूट बस ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष गोविंद शर्मा का कहना है कि कहा - डीजल के दाम 100 रुपए तक पहुंच चुके है। पहले ही ट्रैफिक आधा है, ऐसे में डीजल के बढ़ते दाम। किराया नहीं बढ़ाया गया ताे बसाें का संचालन करना मुश्किल हाे जाएगा। कोरोना कर्फ्यू के दौरान बसों का संचालन बंद रहा। ऐसे में इन दो महीनों के टैक्स में रियायत मिलते हुए टैक्स माफ होना चाहिए। हमने इस संबंध में मांग पत्र शासन को भेज दिया है। इसे लेकर हम जल्द ही बैठक करने वाले हैं। मांग नहीं मानने पर 9 अगस्त से हड़ताल पर जा सकते हैं।

निकल गई हेकड़ी : जहां करते थे दादागीरी, वहीं निकाला गुंडों का जुलूस, गैंगस्टर सतीश भाऊ, चिंटू ठाकुर, शूटर रितेश और मोनू का निकला पैदल जुलूस

गुरुवार काे 47 विभागाें ने की थी हड़ताल

मध्यप्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चे के प्रांतीय आह्वान पर गुरुवार काे प्रदेशभर के कर्मचारी अपनी तीन सूत्रीय मांगों काे लेकर एक दिवसीय सामूहिक अवकाश पर चले गए थे। मोर्चे में शामिल 22 मान्यता और गैर मान्यता प्राप्त कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर जमकर नारेबाजी की थी। उधर, आरटीओ में मेन गेट पर ताला लगाकर गार्ड को तैनात कर दिया गया। किसी को भी भीतर नहीं जाने दिया गया था। मोर्चे के संरक्षक हरीश बोयत एवं जिलाध्यक्ष रमेश यादव ने बताया था कि शिक्षा, स्वास्थ्य, वन, कलेक्टोरेट, महिला बाल विकास, परिवहन, सेल टैक्स, पंचायत, राजस्व, तहसील, खनिज निगम, उच्च शिक्षा आदि सभी विभागों में काम करने वाले अधिकारी - कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर रहे।

Powered by Blogger.