REWA : सुकन्या समृद्धि योजना : नवजात से लेकर 10 साल तक की बेटियों के खोले जाएंगे खाते, ऐसे मिलेगा लाभ

रीवा. बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत पोस्ट आफिस सुकन्या समृद्धि योजना लागू की गई है। कलेक्टर इलैयाराजा टी ने समीक्षा की। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि सुकन्या समृद्धि योजना से नवजात से लेकर 10 साल तक की बेटियों के खाते पोस्ट आफिस में खोले जा रहे हैं। केवल 250 रुपए से खाते खोले जा रहे हैं। हर वर्ष अधिकतम एक लाख 50 हजार रुपए जमा किए जा सकते हैं।

संदिग्ध हालत में नवविवाहिता ने खुद को लगाई आग, अस्पताल में मौत

21 साल में मैच्योर होगा खाता

खाता धारक बेटी का 18 साल के बाद विवाह होने अथवा खाता खोलने के 21 वर्ष में यह खाता मैच्योर होता है। इसकी पूरी राशि बेटी को प्रदान की जाती है। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रतिभा पाण्डेय, सहायक संचालक आशीष द्विवेदी, परियोजना अधिकारी, सहायक डाक अधीक्षक राकेश कुमार, पोस्ट मास्टर संतोष सोनी, आरके पटेल तथा समीर खान उपस्थित रहे।

एक सीख़ : ट्रैफिक सूबेदार ने पिता की पुण्यतिथि पर बांटे हेलमेट, कहा - अगर हादसे के समय होता हेलमेट तो आज पिता जी होते साथ

उत्कृष्ट कार्य पर मिलेगा पुरस्कार

समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि इस योजना में जिले में 15 अगस्त तक 85 हजार 850 बेटियों के पोस्ट आफिस में खाते खोले जाएंगे। जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रत्येक परियोजना के लक्ष्य के अनुसार सुपरवाइजरों को खाता खोलने का लक्ष्य निर्धारित करें। कलेक्टर ने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले परियोजना अधिकारियों व सुपरवाइजरों को 15 अगस्त में सम्मानित किया जाएगा। साथ ही नगद पुरस्कार राशि दी जाएगी।

जिला प्रशासन और चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने बनाई नई रणनीति, जल्द से जल्द, ज्यादा से ज्यादा लोगों को लगाना है टीका

आवेदन में लगेंगे यह दस्तावेज

आवेदन पत्र के साथ बालिका की दो फोटो , एवं अभिभावक की दो फोटो, आधार कार्ड, फोटोयुक्त पहचान पत्र देना होगा। सभी सुपरवाइजर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को आवेदन पत्र भरने का प्रशिक्षण दें।

नशे के खिलाफ बड़ी कार्यवाही : अर्टिगा कार से 2400 सीसी कफ सिरप जब्त तो दूसरी टीम ने 2.30 लाख का 23 किलो गांजा पकड़ा

दो बेटियों तक पात्रता

बैठक में अधीक्षक डाक आरएस चौहान ने कहा कि नवजात से लेकर 10 साल तक की बेटी के खाते खोले जा रहे हैं। केवल दो बेटियों तक ही लाभ की पात्रता है। बेटी के माता-पिता अथवा अभिभावक उसके खाते खोल सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ 250 रुपए जमा कराना अनिवार्य होगा।

बिछिया जिला अस्पताल को बेहतर बनाने की कवायद शुरू, 2 करोड़ से होगा कायाकल्प; परिजनों को ठहरने के लिए बनेगा धर्मशाला : लगेगी सीटी स्कैन मशीन

उच्च शिक्षा के लिए 40 प्रतिशत का मिलेगा लाभ

बेटी की उच्च शिक्षा के लिए खाते में जमा 50 प्रतिशत राशि प्राप्त की जा सकती है। इस खाते में अन्य बचत बैंक खाते की तुलना में अधिक ब्याज दी जा रही है। वर्तमान लगभग 7.6 प्रतिशत दी जा रही है।

Powered by Blogger.