SIDHI : सात नकाबपोश बदमाशों ने व्यापारी युवक को बंधक बनाकर जमकर पीटा, करोड़ों रुपए के जेवर लेकर बदमाश हुए चम्पत : पुलिस ने की जगह जगह नाकबंदी

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सीधी जिले के मझौली कस्बे में बदमाशों ने इलाके के सराफा व्यापारी यहां बड़ी डकैती डाली है। करीब सात नकाबपोश बदमाश निर्माणाधीन घर के पीछे से दाखिल हुए थे। पहले व्यापारी को बंधक बनाकर जमकर पीटा। जब बदमाशों को लगा कि व्यापारी मर गया है, तब दुकान के अंदर रखे सोना-चांदी के जेवरात अपनी टी शर्ट के अंदर और झोले में भरकर ले गए। परिवार वालों के मुताबिक बदमाश करोड़ों रुपए के जेवर ले गए हैं। नकाबपोश बदमाशों की करतूत CCTV कैमरे में कैद हो गई है। इसमें 6 से 7 लोग सोना चांदी का समान देख-देखकर भर रहे हैं।

प्यार में पागल प्यून / 36 साल की प्रोफेसर के पीछे पड़ा 22 साल का चपरासी; नौकरी गई फिर भी नहीं माना, कभी कार में फूल रख देता तो कभी चॉकलेट

घटना के समय परिवार मकान के दूसरे हिस्से में सो रहा था। बदमाशों के जाने के बाद व्यापारी ने परिवार वालों को इसकी जानकारी दी है। देर रात सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने घायल को सीधी अस्पताल भेजा। यहां पर व्यापारी की हालत गंभीर होने पर जबलपुर रेफर किया गया है। आधा दर्जन थानों का पुलिस बल बार्डर एरिया की नाकेबंदी कर दी गई है। पुलिस टीम छत्तीसगढ़ की सीमा सहित जंगली क्षेत्र में सर्चिंग कर रही है।

PM CARE FUND : शिवराज सरकार की मंत्री का बड़ा बयान, फ्री में वैक्सीन लगवाने वाले सक्षम लोग पीएम केयर फंड में 500 रुपए दान करें'

गीता ज्वेलर्स के नाम से संचालित थी दुकान

मझौली पुलिस का कहना है कि हार्दिक उर्फ सूरज सोनी की मझौली वार्ड नम्बर 14 में गीता ज्वेलर्स के नाम से दुकान है। दुकान के ठीक पीछे मकान बन रहा था। यहां से आधा दर्जन बदमाश दाखिल हुए थे। जैसे ही शातिर बदमाश दुकान पर पहुंचे तो सो रहे व्यापारी की नींद ​खुल गई, उसने विरोध किया तो धारदार हथियार से बदमाशों ने सिर पर कई वार किए। बदमाश व्यापारी को तब तक मारते रहे जब तक व्यापारी अधमरा नहीं हो गया। जब चोरों को लगा कि व्यापारी मर चुका है तो वे बारी-बारी से दुकान के काउंटर के अंदर रखे जेवर और नकदी लेकर चलते बने।

गर्लफ्रेंड शादी का दबाव डाल रही थी, फिर आरोपी की पत्नी के इंस्टाग्राम पर आपत्तिजनक पोस्ट किया; तो गुस्साए हिंदू संगठन के युवा नेता ने सबको मार डाला

सुबह 4 बजे घायल व्यापारी पहुंचा जिला अस्पताल

गंभीर रूप से घायल व्यापारी को शनिवार तड़के 4 बजे पुलिस जिला अस्पताल लेकर पहुंची थी। यहां उनकी स्थिति काफी नाजुक थी। यहां से उसे जबलपुर रेफर कर दिया गया। अब पुलिस ​अधिकारियों का मानना है कि यदि व्यापारी 4 बजे सीधी अस्पताल पहुंचा है तो लूट की वारदात रात 2 से 3 के बीच हो सकती है, क्योंकि सीधी शहर से मझौली की दूरी भी 50 से 60 किलोमीटर दूर है। मझौली से अस्पताल पहुंचने में एक घंटे से ज्यादा समय लगता है।

Powered by Blogger.