REWA : रीवा में गर्भवतियों के लिए टीकाकरण का शुभारंभ, 8 हजार प्रेंग्नेट महिलाओं को लगेगा टीका : हर मंगलवार और शुक्रवार को लगेगी कोवैक्‍सीन की डोज

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

देश-प्रदेश में तीसरी लहर को देखते हुए राज्य सरकार ने गर्भवतियों के लिए 23 जुलाई से विशेष टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया गया। ऐसे में अभियान के पहले दिन गर्भधात्री महिलाओं में जबरदस्त उत्साह दिखा। बताया गया कि जिन महिलाओं को ​टीकाकरण के लिए घंटों मशक्कत करनी पड़ती थी। उन्हीं गर्भधात्री महिलाओं को मंगलवार और शुक्रवार के दिन विशेष टीकाकरण अभियान के माध्यम से मिनटों में टीकाकरण किया जा रहा है।

तीन अलग-अलग घटनाओं में तीन की मौत, पुलिस ने मर्ग कायम कर शुरू की जांच, चारों के शव पीएम के बाद ​सौंपे गए परिजनों को

सीएमएचओ डॉ. एमएल गुप्ता ने बताया कि रीवा जिले में 8 हजार गर्भधात्री चयनित कर ली गई थी। जिनको विशेष सत्र आयोजित कराकर टीकाकृत किया जाएगा। हालांकि टीकाकरण से पहले उनके स्वास्थ्य का चेकअप किया जा रहा है। साथ ही उनकी मर्जी के हिसाब से वैक्सीन लगवाई जा रही। रीवा जिले में गर्भवतियों के लिए 11 टीकाकरण केन्द्र बनाए गए है। जहां वह आसानी से जाकर लगवा रही है।

अलग-अलग जरूरतमंदों को चिकित्सक डॉ राकेश पटेल व स्टाफ नर्स वंदना पांडेय ने रक्तदान कर बचाई जान

इन केन्द्रों में लग रही वैक्सीन

बताया गया कि जिन जगहों पर सेंटर बनाया गया है। उनमे शहर का मेडिकल कॉलेज, बिछिया जिला अस्पताल, मऊगंज सिविल अस्पताल, त्योंथर सिविल अस्पताल, सिरमौर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, गंगेव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, गोविंदगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, सेमरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, नईगढ़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, जवा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, चाकघाट सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शामिल है।

हास्य कलाकार अविनाश तिवारी और शैलू शर्मा द्वारा अशोभनीय वीडियो बनाकर हिन्दूओ की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का लगा आरोप : वीडियो जारी कर मांगी माफ़ी

क्यों लगाई जा रही सिर्फ कोवैक्‍सीन

प्रदेश सरकार का मानना है कि पहले और दूसरे टीके के बीच सिर्फ कोवैक्‍सीन में ही अंतर की अवधि 28 दिन है। साथ ही तीसरी लहर से पहले गर्भवती महिलाओं को टीके की दोनों खुराक जल्‍द से जल्‍द लग जाए। इसीलिए कोवैक्‍सीन ही लगाई जा रही है। साथ ही आदेश है​ कि वहीं पर वैक्सीन लगाई जाए जिन वैक्सीनेशन सेंटरों पर एकस्ट्रा टीकाकरण कक्ष, निगरानी कक्ष, प्रतीक्षा कक्ष, मेडिकल ऑफिसर द्वारा निगरानी की व्यवस्था हो। वहीं गर्भवती महिलाओं को सुबह 9 बजे से वैक्सीन लगाने की शुरुआत करें तथा समापन शाम 4 बजे कर दिया जाए।

Powered by Blogger.