REWA : रीवा में 20 रुपए के लिए 75 वर्षीय वृद्धा की अंधी हत्या : पुरानी उधारी चुकाए बिना गुटखा देने से किया था मना

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले के नईगढ़ी थाना अंतर्गत करही गांव में 6 दिन पहले हुई 75 वर्षीय वृद्धा की अंधी हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। वारदात की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने बताया कि वृद्धा की हत्या महज 20 रुपए के लिए कर दी गई थी। क्योंकि उसने घटना वाली रात हत्यारोपी को 20 रुपए के गुटखा की उधारी देने से मना कर दी थी। ऐसे में आरोपी आक्रोशित होकर ​महिला के सिर में डंडा मार कर लहू​लुहान कर दिया। फिर लगातार प्रहार से उसके शरीर से प्राण निकल गए थे।

सामुदायिक पुलिसिंग के तहत एक दिवसीय फुटबॉल टूर्नामेंट का हुआ आयोजन : दो गोल दागकर ढेरा बना विजेता तो रंगारंग मुकाबले में नईगढ़ी टीम हुई बाहर

इसके बाद आरोपी गांव छोड़कर भाग गया था। लेकिन अलसुबह गांव छोड़ते समय कई लोगों ने उसको देखा था। साथ ही वारदात के दिन से फरार था। जिसको मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार कर हत्या का खुलासा किया गया है। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त डंडा तथा रक्त रंजित कपड़े जब्त किए गए हैं। आरोपी को रविवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

"सबको भोजन, पर्याप्त पोषण" : सिंधु भवन में आयोजित अन्नोत्सव में सांसद ने किया शिरकत, 44 हजार 800 हितग्राहियों को 10-10 किलो के थैले वितरित किए

रीवा में लूट के बाद बुजुर्ग की हत्या:देर रात बुजुर्ग महिला के घर घुसे बदमाश, सामान लूटकर हंसिए से वार किया; सुबह लहूलुहान मिला शव

मॉर्निंग वॉक पर निकले युवक पर त्रिशूल से हमला : आरोपी ने तालाब में लगाई छलांग, फिर उपर लाकर बारी-बारी से भीड़ ने की जमकर पिटाई

पुलिस की मानें तो छोटी कुशवाहा पति केमला प्रसाद (75) निवासी करही की 1-2 अगस्त की दरमियानी रात हत्या कर दी गई थी। सुबह घटना की जानकारी होने पर पुत्र इंद्रकुमार द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई थी। फिर अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए एफएसएल टीम और डॉग स्क्वाड को मौके पर बुलाया गया था। तब पुलिस को परिजनों ने बताया था कि वृद्धा गुटखा, सिगरेट और बिस्किट आदि की दुकान चलाती थी। जिसके चलते रात में गुटखा और सिगरेट के शौकीन लोग उसके पास पहुंचते थे। वह अंकेले ही अपने खेत वाले मकान में रहती थी। जिससे ग्राहकों पर हत्या का संदेह था।

2 साल पहले युवक का युवती से था प्रेम प्रसंग; फिर मालगाड़ी के सामने कूदकर युवक ने दी जान : परिजनों ने दूसरी पत्नी पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

वारदात की रात से था फरार

विवेचना के दौरान मुखबिर से जानकारी मिली कि करही का रहने वाला वीरू उर्फ रंजीत पिता छोटेलाल रावत (20) घटना के दिन अल सुबह 4 बजे बाहर जाते हुए देखा गया है। ऐसे में पुलिस ने उसकी तलाश तेज की। यहां वहां से सटीक जानकारी लेने के बाद शनिवार की शाम पुलिस ने हिरासत में लिया। फिर पूछताछ में उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। आरोपी ने बताया कि घटना वाली रात वह वृद्धा के पास गुटखा लेने गया था। वृद्धा ने पुरानी उधारी मांगते हुए गुटखा देने से इंकार कर दिया। इसी बात पर गुस्सा आ गए। तभी सामने दिखे डंडा से पीट पीटकर हत्या कर दी।

Powered by Blogger.