MP : विकास की ओर बढ़ता रीवा : रीवा-भोपाल और रीवा-इंदौर के लिए जल्द शुरू होंगी फ्लाइट : राजेंद्र शुक्ल ने मुख्यमंत्री से भेंट कर किया अनुरोध

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) विंध्य क्षेत्र के रीवा से जल्द ही रीवा-भोपाल और रीवा-इंदौर के लिए विमान सेवा शुरू होने वाली है। फ्लाइट शुरू होने से जहां रीवा का विकास महानगरों की तर्ज पर होगा। वहीं उन्नति के नए आयाम को पंख लगेंगे। साथ ही विंध्य में रीवा पहला शहर होगा, जहां हवाई सेवा शुरू होने से भोपाल व इंदौर महानगर की दूरियां कम हो जाएगी। जबकि हवाई सेवा शुरू होने से विंध्य के ​उद्योगपति और बिजनेसमैन रोजाना अप और डाउन कर सकते है।

बता दें कि पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेंद्र शुक्ल ने सीएम से भेंटकर नागरिक उड्डयन मंत्रालय से चाहे गए राज्य के 100 प्रतिशत वीजीएफ अंशदान देने के लिए अनुरोध किया था। जिस पर सीएम ने तत्काल सहमति-पत्र भेजे जाने के लिये अधिकारियों को निर्देश प्रदान किए है। साथ ही सीएम ने वीजीएफ राशि देने की स्वीकृति देने के साथ कहा कि प्रस्तावित रीवा, इंदौर और भोपाल से 72 सीटर विमान सेवा जल्द शुरू होगी।

14 जुलाई को ज्योतिरादित्य सिंधिया से की थी मुलाकात

राजेंद्र शुक्ल ने कहा कि रीवा में उड़ान योजना अंतर्गत लो कॉस्ट एयरपोर्ट शुरू होने जा रहा है। इस मार्ग पर हवाई सेवा शुरू करने से रीवा और आसपास के क्षेत्र का विकास होगा। साथ ही विंध्य के लिए उड़ान सेवा वरदान साबित होगी। उन्होंने बताया कि 14 जुलाई 2021 को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से दिल्ली में भेंटकर रीवा से फ्लाइट शुरू करने का प्रस्ताव दिया था। जिसको नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने स्वीकृत करने का आग्रह किया था। जिस पर मंत्री ने सहमति प्रदान करते हुए मंत्रालय को कार्यवाही के निर्देश दिए थे। मंत्रालय द्वारा रीवा से फ्लाइट शुरू करने के लिए आपरेटर से निविदाएं आमंत्रित की गई है। निविदा की कुल राशि का हिस्सा वीजीएफ राज्य सरकार को देने का प्रावधान है। ऐसे में मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात कर नागरिक उड्डयन मंत्रालय के पत्र पर अमल करने का अनुरोध किया था। जिसके बाद राज्य सरकार ने वीजीएफ राशि देने के प्रस्ताव पर हरी झंडी दिखा दी है।

पर्यटन को लगेंगे विकास के पंख

विधायक ने बताया कि विंध्य क्षेत्र में विगत वर्षों में पर्यटन, खनिज संपदा, औद्योगिक एवं कृषि विकास को लेकर उल्लेखनीय कार्य हुए हैं। जिसके कारण क्षेत्र का आर्थिक विकास हुआ है। आम आदमी की औसत आय और व्यय क्षमता में वृद्धि हुई है। रीवा में हवाई सेवाओं के विस्तार की अपार संभावनाएं पैदा हुई है। इन्हीं कारणों से रीवा शहर को नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा उड़ान योजना में शामिल करते हुए रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम अंतर्गत लो कॉस्ट एयरपोर्ट विकसित करने की कार्यवाही शुरू की गई है। निजी निवेशकों द्वारा रीवा-भोपाल और रीवा-इंदौर मार्ग पर हवाई सेवा प्रारंभ करने की निविदा प्रस्ताव के अनुसार नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने राज्य को वीजीएफ राशि देने के लिए कहा है।


रीवा जिले की सबसे ज्यादा पढ़ी जानें वाली खबरें 

रीवा शहर में 2035 तक विकास के संबंध में जिला समिति में दिये गये कई महत्वपूर्ण सुझाव

साऊदी अरब से फेसबुक पर अमिरती गांव को छोटा पाकिस्तान बताने वाले अबरार ख़ान के विरुद्ध आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज

50 सीटर बस में 126 लोगों को बैठाया , मनमाना किराया भी वसूला : प्रतिबंध बावजूद रीवा से नागपुर धड़ल्ले से दौड़ रही बसें

REWA ACID ATTACK : एक तरफा प्यार में दो बच्चों के पिता ने बुआ सहित दो भतीजी पर किया एसिड अटैक : शहरी क्षेत्र के सभी थाना प्रभारियों ने घेराबंदी की

सिलपरा से बेला (गोविंदगढ़ मार्ग) तक बनेगी 13 KM लंबाई की रिंग रोड : पूर्व मंत्री ने दिए निर्देश

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.