MP : 'पाकिस्तान जिंदाबाद' नारे वायरल वीडियो पर प्रदेश में राजनीति गरमाई : पूर्व CM ने वीडियो को फेक बताकर मंत्री विश्वास सारंग पर निशाना साधा

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


उज्जैन में मोहर्रम के लिए जुटी भीड़ द्वारा देश विरोधी नारे लगाने के वीडियो पर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर नारे के वीडियो को फेक बताया तो सोमवार को मंत्री विश्वास सारंग ने उन पर निशाना साधा। सारंग ने दिग्विजय सिंह को पाकिस्तान का स्लीपर सेल बताया और कहा कि इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण और क्या होगा कि दिग्विजय सिंह हर समय पाकिस्तान परस्ती की बात करते हैं। इधर उज्जैन एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल ने कहा कि हमारे पास पुख्ता प्रमाण हैं। वहां भारत विरोधी नारेबाजी हुई है। जिसके वीडियो फुटेज हमारे पास हैं। इसी आधार पर हमने केस दर्ज किया है।

इंदौर से दुबई जाने वाले लोगों के लिए GOOD NEWS : 1 सितंबर से इंदौर से दुबई के लिए सीधी उड़ान शुरू

बता दें कि मोहर्रम के अगले दिन सोशल मीडिया पर उज्जैन का वीडियो सामने आया था। इसमें पाकिस्तान जिंदाबाद के भी नारे लगाए गए। इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों पर कार्रवाई की है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने इस वीडियो को फेक बताया और कहा कि वहां पर 'काजी साहब जिंदाबाद' के नारे लगाए गए थे न कि ' पाकिस्तान जिंदाबाद।' सिंह ने कहा कि मप्र पुलिस को कार्रवाई करने के पूर्व वास्तविकता का पता लगा लेना चाहिए था। यदि गिरफ्तारी हुई है तो प्रकरण वापस लेना चाहिए।

नशे में चूर लड़कियों की कार ने युवक को कुचला : 12th एग्जाम पास होने की खुशी में पार्टी कर वापस लौट रहीं थी, SWIGGY के डिलीवरी बॉय मौत : परिवार का अकेला सहारा था

कांग्रेस जवाब दे कि दिग्विजय देश विरोधियों के साथ क्यों दिखते हैं: सारंग

इस पर मंत्री सारंग ने कहा कि क्या दिग्विजय सिंह पाकिस्तान के स्लीपर सेल हैं? क्या वह ISI एजेंट के तौर पर काम करना चाहते हैं? किसी भी मस्जिद, कार्यक्रम और मदरसे में काजी साहब जिंदाबाद के नारे नहीं लगाए जाते, इस्लाम में इस बात की इजाजत नहीं है। उन्होंने कहा - दिग्विजय सिंह 3 दिन बाद क्यों ट्वीट कर रहे हैं? क्या वह अपराधियों को बचाना चाहते हैं? इसका साफ मतलब है कि दिग्विजय सिंह देशद्रोहियों को संरक्षण देना चाहते हैं। चाहे कन्हैया कुमार की बात हो या हाफिज सईद की बात हो या फिर अब उज्जैन की घटना, उनके पेट में तब दर्द हो जाता है जब देशद्रोहियों के खिलाफ कार्रवाई होती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को स्पष्टीकरण देना चाहिए कि हर समय देशद्रोहियों के साथ दिग्विजय सिंह क्यों दिखते हैं।

इंस्टाग्राम पर दोस्ती कर 9वीं कक्षा की 15 वर्षीय छात्रा के साथ दो युवकों ने किया दुष्कर्म : ब्लैकमेल कर घर के सामने बगीचे में बुलाकर करते थे दरिंदगी

इमामबाड़ा में लगे भारत विरोधी नारे: एसपी उज्जैन

इस मामले में उज्जैन एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल ने कहा कि हमारे पास पुख्ता प्रमाण हैं। वहां भारत विरोधी नारेबाजी हुई है। जिसके वीडियो फुटेज हमारे पास हैं। इसी आधार पर हमने केस दर्ज किया है। आगे और भी वीडियो व कुछ लोगों के सोशल मीडिया अकाउंट की जांच की जा रही है। जो भी प्रमाण मिलेंगे उसी आधार पर कार्रवाई करेंगे। वहीं इस मामले में शहर काजी खलीकुर्रहमान ने बताया कि पूरे मामले की सत्यता पुलिस से पता करना चाहिए। भारत विरोधी या मेरे पक्ष में नारेबाजी की गई इसका जवाब भी पुलिस ही बता सकेगी।

Powered by Blogger.