REWA : टमस नदी बाबूपुर का मामला : नदी में डूबे भतीजे का शव 36 घंटे बाद तो चाचा का 30 घंटे बाद बड़ी सफलता से मिला

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले के त्योंथर क्षेत्र से निकलने वाली टमस नदी में डूबे भतीजे का शव 36 घंटे बाद तो चाचा की 30 घंटे बाद डेड बॉडी रिकवर कर ली गई है। एसडीआरएफ की टीम ने दो दिन में रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा कर लिया है। पहला शव होमगार्ड के गोताखारों ने गुरुवार की सुबह 7 बजे घटनास्थल से 100 मीटर दूर पेड़ में फंसी अंकित मांझी की डेड बॉडी बरामद की थी।

बाइक सवार को पीछे से आ रहे तेज रफ़्तार ट्रक ने पीछे से कुचला : मोबाइल पर बात कर रहा था युवक, सिर हुआ धड़ से अलग : नहीं हुई मृतक की शिनाख्त

दूसरा शव गुरुवार की शाम 4 बजे घटनास्थल से 4 किमी दूर मिला है। जिसकी​ शिनाख्त बालकृष्ण मांझी के रूप में हुई है। दावा है कि स्टीमर की मदद से सर्चिंग करते समय एसडीआरएफ के जवानों को मिली है। दोनों ही शवों को पंचनामा कार्रवाई के बाद त्योंथर अस्पताल में पीएम कराते हुए परिजनों को सौंप दी गई है।

सेना की भर्ती होने का ख्वाब देख रहे भड़के बेरोजगार युवाओं ने गेट तोड़कर कलेक्ट्रेट में किया हंगामा : बोले - उम्र निकल रही है, आप ही बताएं क्या करें

सोहागी थाना प्रभारी उप निरीक्षक पवन शुक्ला ने बताया कि मंगलवार की शाम करीब 7 बजे के आसपास अंकित मांझी पिता नंदकुमार (14) निवासी त्योंथर वार्ड क्रमांक 10 बाबूपुर टमस नदी में मछली पकड़ने गया था। तभी मछली का जाल निकालते समय मिर्गी का चक्कर आया। इससे वह टमस नदी में डूब गया।

एक और नई पहल : जिले में दो नए औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की प्रक्रिया शुरू : लघु एवं मध्यम उद्योगों की स्थापना के लिए कलेक्टर ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा

बुधवार की सुबह 7 बजे रिश्ते के चाचा बालकृष्ण मांझी पिता नंदलाल (32) भी नाव पलटने से डूब गए। दो हादसों के बाद पुलिस हरकत में आई और होमगार्ड व एसडीआरईएफ के जवानों को मौके पर बुलाया है। जो तीन स्टीमर की मदद से नदी की सर्चिंग कर रहे है।

चरित्र शंका में पत्नी की हत्या : पत्नी की कुल्हाड़ी से गर्दन काटकर खुद ही थाने पहुंच गया पति : हत्या की बात पुलिस को बताई तो सुनकर रह गए सन्न

दो दिन चला रेस्क्यू ऑपरेशन

त्योंथर चौकी प्रभारी उपनिरी​क्षक संजीव शर्मा ने बताया कि गुरुवार का रेस्क्यू ऑपरेशन एक स्टीमर की मदद से चल रहा है। तभी एक शव सुबह ही बरामद हो गया था। जैसे ही दोपहर के बाद टमस नदी का पानी कम हुआ। वैसे ही एसडीआरएफ के जवान नाव व स्टीमर की मदद से करीब 300 मीटर का एरिया छान रहे हैं, लेकिन जब दूसरा शव नहीं बरामद हुआ तो सर्चिंग का दायरा बढ़ाया गया। जैसे ही गुरुवार को टीम 5 किमी तक सर्चिंग करना शुरू की तो दूसरी डेड बॉडी मिल गई।

भ्रष्टाचारी राजस्व निरीक्षक को विशेष न्यायालय लोकायुक्त ने सुनाई 4 साल की कठोर कारावास सजा

बीते दिन शाम कलेक्टर-एसपी ने सर्चिंग में उतारी 3 स्टीमर

त्योंथर क्षेत्र में एक नदी में डूबने से दो लोगों की मौत के बाद बुधवार की शाम कलेक्टर इलैया राजा टी और एसपी राकेश सिंह मौके पर पहुंचे थे। जिन्होंने शव बरामद कराने के लिए टमस नदी में 3 स्टीमर उतरवाई थी, लेकिन फिर भी सफलता नहीं मिली थी। क्यों​कि बीते दिन टमस नदी में बकिया बराज व बीहर बराज का गेट खुलने से पानी की आवक बढ़ गई थी। जब गुरुवार को पानी की आवक कम हुई तो एक शव सुबह तो दूसरा शाम 4 बजे के बरामद हुआ।

Powered by Blogger.