MP BOARD की 10वीं और 12वीं की विशेष परीक्षा 6 सितंबर से शुरू : 18 लाख छात्रों से 14 हजार छात्र शामिल, सतना और ग्वालियर से साढ़े 4 हजार छात्र बैठ रहे : शर्त के कारण बच्चों ने बनाई दुरी


MP बोर्ड की 10वीं और 12वीं की 6 सितंबर से होने वाली विशेष परीक्षा में कुल 18 लाख छात्रों से 14 हजार ही छात्र शामिल हो रहे हैं। हैरानी की बात है कि 10वीं में कुल 9 हजार छात्रों में से मुरैना, भिंड, सतना और ग्वालियर से ही साढ़े 4 हजार छात्र बैठ रहे हैं, जबकि भोपाल और इंदौर के 700 में छात्र हैं। इसके अलावा शेष छात्र प्रदेश भर से हैं। 10वीं में इस बार करीब 10 लाख छात्र शामिल हुए थे। इसी तरह 12वीं में भिंड और इंदौर में सबसे ज्यादा करीब 600 छात्र शामिल हो रहे हैं, जबकि 5 हजार में से शेष प्रदेश भर के हैं। 12वीं की परीक्षा में करीब 7 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे।

MP POLICE TRANSFER : गृह विभाग ने जारी की कार्यवाहक निरीक्षक, निरीक्षकों और उप निरीक्षकों के ट्रांसफर की लिस्ट : देखे पूरी सूची

शर्त के कारण बच्चे नहीं बैठ रहे

कोरोना के कारण परीक्षा नहीं हुई थी। 10वीं और 12वीं में सभी बच्चों को पास कर दिया गया। ऐसे में कानूनी झमेले से बचने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने रिजल्ट से नाखुश छात्रों के लिए विशेष परीक्षा का विकल्प दिया, लेकिन इसमें रखी गई एक शर्त के कारण अधिकतर बच्चों ने इससे दूरी बना ली है।

अब महिला हो या पुरुष दोपहिया वाहन पर बैठे हैं तो हेलमेट पहनना अनिवार्य : HIGH COURT

मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा था कि परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को परीक्षा के बाद ही मार्कशीट जारी की जाएगी। पहली मार्कशीट रद्द मानी जाएगी। ऐसे में बच्चों के मन में आशंका है कि तैयारी अच्छे से नहीं होने के कारण रिजल्ट बिगड़ सकता है। यही कारण है 18 लाख में से 14 हजार ही इसमें शामिल हो रहे।

RAKSHA BANDHAN : रक्षाबंधन पर धनिष्ठा नक्षत्र और शोभन योग में मनाया जाएगा भाई-बहन के स्नेह का पर्व

6 सितंबर से होगी परीक्षा

10वीं और 12वीं के प्राइवेट और रेगुलर छात्रों के लिए 6 सितंबर से परीक्षा शुरू होगी। 10वीं की 15 सितंबर और 12वीं की 21 सितंबर तक चलेगी। दोनों का समय सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक रहेगा। दोनों परीक्षाएं एक साथ होंगी परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र 1 सितंबर से एमपी ऑनलाइन के पोर्टल पर अपना प्रवेश पत्र ले सकेंगे।

कॉलेजों में नए सत्र से नई शिक्षा नीति लागू : 20 अगस्त से शुरू होगी फीस जमा करने की प्रक्रिया : पढ़ ले पूरी जानकारी

10वीं का रिजल्ट

साढ़े 10 लाख स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी थी। इसमें से 3 लाख 56 हजार 582 (39%) फर्स्ट, 3 लाख 97 हजार 762 (43.50%) सेकेंड और 15 हजार 871 (17.48%) छात्र थर्ड डिवीजन पास हुए हैं।

शिव के राज़ में मिली लाठियां : भोपाल में प्रदर्शन करने आए बेरोजगारों को रोजगार के बदले मिले पुलिस के डंडे : 24 से ज्यादा युवक घायल

12वीं का रिजल्ट

मप्र बोर्ड की 12वीं का रिजल्ट 100% रहा, लेकिन 52% स्टूडेंट्स ही फर्स्ट डिवीजन में पास हो सके। 40% का सेकेंड डिवीजन और 7% स्टूडेंट्स थर्ड डिवीजन से पास किए गए।

MP का रीवा सुकन्या समृद्धि योजना में देश में प्रथम स्थान हासिल किया : 22 दिनों के अंदर खुले 134947 बेटियों के खाते, व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर कलेक्टर ने की समीक्षा

यहां 10वीं सबसे ज्यादा छात्र बैठ रहे

जिला10वीं12वीं
मुरैना2583338
भिंड1092185
सतना543166
ग्वालियर511278
रीवा36619

यहां 10वीं सबसे कम छात्र बैठ रहे

जिला10वीं12वीं
मंडला1271
हरदा1432
बुरहानपुर1422
बड़वानी2168
दमोह2197

बड़े शहरों की स्थिति

जिला10वीं12वीं
ग्वालियर511278
इंदौर344321
भोपाल249160
जबलपुर195160
सागर151112
Powered by Blogger.