REWA : पुलिस की बड़ी कार्यवाही : भुवनेश्वर से रीवा आ रहा 11.70 क्विंटल गांजा समेत तीन तस्करों को पुलिस ने पकड़ा

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें


सतना में पुलिस ने एक ट्रक से 11.70 क्विंटल गांजा जब्त किया गया है। इसकी कीमत 2.34 करोड़ रुपए आंकी गई है। आरोपियों ने मुरमुरे के बोरों में गांजा छिपा रखा था। यह खेप भुवनेश्वर से रीवा ले जाई जा रही थी। 3 तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया है।

प्रेम प्रसंग के बाद बलात्कार का मुकदमा दर्ज होने से लगाया मौत को गले : पेड़ में लटकता मिला शव : गांव में हड़कंप

आरोपियों ने डिलीवरी देने के लिए 10 रुपए के नोट पर कोड बना रखा था। आरोपी फिल्मी स्टाइल में तस्करी करते थे। वे 10 रुपए के नोट के दो टुकड़े कर लेते थे। इसका एक टुकड़ा डिलीवरी लेने वाले, तो दूसरा टुकड़ा डिलीवरी देने वाले के पाास रहता था। जब दोनों मिलते, तो नोट के दोनों हिस्सों पर लिखा 6 अंकों का यूनिक नंबर मिलाया जाता। नंबर मिलने पर ही डिलीवरी दी जाती थी। पुलिस ने फटा नोट भी जब्त किया है।

रीवा दोहरा हत्याकांड : 6 दोस्तों ने मिलकर की थी हत्या, SP ने किया खुलासा, बहन पर रखते थे बुरी नजर

आईजी जोगा ने बताया, पुलिस टीम ने बुधवार रात 9 बजे बैकंठपुर के कृपलानी एनिकेट मोड़ पर नाकाबंदी कर ट्रक क्रमांक AP16 TG 3247 को रोका। पहले ट्रक ड्राइवर ने गुमराह किया। पुलिस ने ट्रक की तलाशी ली। ट्रक में मुरमुरे के बोरे भरे थे। शक के आधार पर पुलिस ने बोरियों को खोलकर देखा, तो दंग रह गई। पुलिस ट्रक जब्त कर लिया। पुलिस ने सुरेश यादव (45), राजू उर्फ सोनाथ सिंह यादव (44) और अरुण कुशवाहा (32) को गिरफ्तार किया है। तीनों रीवा के रहने वाले हैं। वहीं, बबलू कुशवाहा निवासी बीड़ा सेमरिया और बब्बू मुसलमान निवासी मुरादाबाद फरार हो गए। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

अधिकारी ले रहे मलाई, जनता लगा रही गुहार : समस्या से निजात पाने खटखटा रहे दरवाजे तभी भी मिली निराशा : 20 साल से झेल रहे समस्या

रीवा के ग्रामीण इलाकों में खपाने वाले थे

पुलिस के मुताबिक गांजे की ये खेप भुवनेश्वर से बैकुंठपुर रीवा के लिए ले जाई जा रही थी। भुवनेश्वर में बब्बू मुसलमान ने डील कराई थी। रीवा में आरोपियों ने गोदाम बना रखा है। माल खपाने के लिए बड़ा नेटवर्क बनाया है। यहां से ग्रामीण क्षेत्रों में एजेंट भी बना रखे हैं। इन्हीं एजेंटों के माध्यम से ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में ये गांजा सप्लाई होना था।

Powered by Blogger.