REWA : फौजी निकला ठगी का मास्टरमाइंड : 50 लाख की लग्जरी कार से चलता था आरोपी, एक का डबल बताकर करोड़ों रु.किए अंदर : मुंबई की गर्लफ्रेंड भी शामिल

रीवा का फौजी ठगों का सरगना निकला है। उसने दिल्ली की BTC कंपनी की क्रिप्टो करेंसी स्कीम में एक दिन में पैसा डबल करने का झांसा देकर कई लोगों को ठगा है। अब तक कि पूछताछ में 27 लाख की ठगी सामने आ चुकी है। पुलिस के मुताबिक, ठगी करोड़ों में है। सिटी कोतवाली में FIR की गई है। अब तक की जानकारी में पता चला है कि फौजी ठगी की रकम से रॉयल लाइफ जी रहा था। 50 लाख की फॉर्च्यूनर कार से चलता था। शादीशुदा होने के बाद भी मुंबई की गर्लफ्रेंड है। वह भी इस ठगी में बराबर की हिस्सेदार है।

फौजी का कालाचिट्‌ठा तब खुला, जब उसने खुद की किडनैपिंग की झूठी साजिश रच घर पर 20 लाख की फिरौती का फोन कराया। पुलिस फौजी के पास पहुंची तो पता चला कि जिन लोगों का उसने पैसा डकारा है, वे ही उसे पकड़कर रखे हुए थे। यह भी जानकारी सामने आई है कि उसके झांसे में शहर के नामचीन और कुछ अफसर तबके के लोग भी फंस चुके हैं। उसकी गर्लफ्रेंड भी कुछ दिन से रीवा में होटल बदल-बदलकर रुकी हुई थी।

बघेली कलाकार आरोपी अविनाश तिवारी के ऊपर दर्ज हुई FIR, पीड़िता को न्याय दिलाने आगे आई बजरंग सेना

SP नवनीत भसीन ने बताया कि पुष्पेंद्र यादव (32) घेरहा (थाना लौर, रीवा) का रहने वाला है। वह आर्मी में बतौर सैनिक 2015 में जॉइन हुआ था। अभी मेरठ (UP) में पोस्टेड है। दो महीने पहले ही छुट्‌टी लेकर गांव आया है। पत्नी और एक बेटा गांव में ही परिवार के साथ रहते हैं। उसने खुद के अपहरण की साजिश रची। जब साइबर सेल की मदद से पुलिस पहुंची तो वह ठगी का सरगना निकला। उसने रीवा शहर से लेकर देहात तक कई लोगों के पैसे हजम किए हैं। बताते हैं कि उसने धोखाधड़ी का खेल दो साल पहले ही शुरू कर दिया था।

प्रेम प्रसंग में युवक को मारी गोली : मेरी प्रेमिका से शादी हुई तो अनर्थ हो जाएगा कहकर मार दी बाराती युवक को गोली : गंभीर हालत में बाराती SGMH में भर्ती

इस तरह बनाता था शिकार

एडिशनल SP शिवकुमार वर्मा ने बताया कि पुष्पेंद्र ने लोगों को बताता था कि BTC कंपनी में पैसे लगाने से काफी फायदा होता है। इस कंपनी में जितना पैसा लगाओ, उतना ज्यादा मिलता है। आरोपी ने विश्वास जमाने के लिए शुरू में लोगों को ज्यादा पैसे के साथ जमा धन वापस भी किया। इसके बाद लोगों ने और भी ज्यादा रुपए जमा करने शुरू कर दिए। बाद में जब बड़ी रकम लोगों ने उसे दी, तो उसने लौटाए नहीं। लौर थाना और सिटी कोतवाली थाने में आरोपी के खिलाफ धारा 420 का अपराध दर्ज कर लिया गया है।

27 लाख की धोखाधड़ी की FIR दर्ज

सिटी कोतवाली निरीक्षक आदित्य प्रताप सिंह परिहार ने बताया कि आरोपी फौजी के खिलाफ सिटी कोतवाली थाने में रतहरा निवासी अशोक मिश्रा ने FIR दर्ज कराई है। उन्होंने बताया है कि 5 जुलाई से 5 दिसंबर के बीच करीब 24 लाख रुपए जमा किए हैं। आरोपी ने रुपए ठगते समय कहा था कि क्रिप्टो करेंसी स्कीम में राशि जमा करा रहे हैं। इसी तरह पंकज तिवारी ने दो लाख रुपए झांसा में आकर जमा कर दिए। विवेक मिश्रा ने 1 लाख रुपए की ठगी की बात कही है।

नेटवर्क में मुंबई की गर्लफ्रेंड को जोड़ा

ठगी का खुलासा होने के बाद पता चला है कि आरोपी फौजी ने जिले भर में अपना नेटवर्क फैला रखा था। उसने काले कारनामे में मुंबई की गर्लफ्रेंड को भी शामिल कर लिया था। गर्लफ्रेंड को रीवा शहर और रायपुर कचुर्लियान थाने के कोष्टा में रखा था। सूत्रों की मानें तो करोड़ों रुपए हजम करने वाला आरोपी फौजी पुलिस गिरफ्त में आ गया है। हालांकि, पुलिस द्वारा अभी अधिकारिक पुष्टि नहीं की जा रही है। सूत्रों की मानें तो दो करोड़ से ज्यादा की ठगी की गई है।

गांव में गर्लफ्रेंड को बताता था सेना की अधिकारी

आरोपी गर्लफ्रेंड को सेना का अफसर बताता था। वह उसे अपने गांव घोरहा भी लेकर जा चुका है। घरवालों से बताया था कि मैडम सेना के ऑफिशियल कार्य से रीवा आई हैं। उसकी गर्लफ्रेंड को महिला थाना पुलिस की मदद से वन स्टॉप सेंटर में रखाया गया है। महिला बाल विकास विभाग के जिम्मेदारों ने इस मामले में चुप्पी साधी हुई है।

क्रिप्टो करेंसी स्कीम के नाम पर लोगों को फसाता था सेना का जवान : बोला सुबह पैसे लगाओ शाम को डबल, खुद अपहरण की साजिश रच मांगी 20 लाख की फिरौती

Powered by Blogger.