राजनिवास रेप कांड में 5 हजार का इनामी 7वां आरोपी मोनू पयासी गिरफ्तार : पुलिस ने न्यायालय में पेशकर एक दिन की रिमांड में लिया, मथुरा से रीवा पुलिस ने पकड़ा

 

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। जिले के बहुचर्चित राजनिवास रेप कांड के मुख्य आरोपी महंत सीताराम दास की शराब पार्टी में चिखना लाने और महंत को दुबारी से भितरी तक कार से छोड़ने वाले आरोपी को रीवा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में यह 7वीं गिरफ्तारी है। इसके पहले 5 आरोपी और 6वें नए आरोपी को गुरुवार को रीवा पुलिस ने गिरफ्तार किया था। 

सतना के युवक ने किया हैदराबाद की इंजीनियर युवती से किया रेप : सोशल मीडिया में दोस्ती कर बनाया हवस का शिकार, 3 साल में लिए 20 लाख

पुलिस के मुताबिक आरोपी मोनू पयासी (मिश्रा) घटना के बाद से फरार था जो भागकर मथुरा पहुंच गया था। वहां से वह वापस लौट रहा था जिसकी जानकारी पुलिस को हुई तो पुलिस ने आरोपी को धर दबोचा। बता दी इस फरार आरोपी पर रीवा एसपी नवनीत भसीन ने 5 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। 

सगरा के बाद अब नौबस्ता में नशे की तस्करी का वीडियो वायरल : बुजुर्ग महिला कोरेक्स और गांजा बेचती कैमरे में हुई कैद

वही पुलिस भी इसे पकड़ने लगातार प्रयास कर रही थी। शुक्रवार को पुलिस ने आरोपी को पकड़ न्यायालय में पेश कर एक दिन की रिमांड में लिया है। वही गुरुवार को पकड़े गए आरोपी को न्यायालय में पेशकर जेल भेज दिया गया है। बता दें कि अब घटना में शामिल रहे 8 आरोपियो में एक आरोपी धीरेंद्र मिश्रा पुलिस की गिरफ्त से बाहर है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। 

राजनिवास कांड के दों सह आरोपी संजय त्रिपाठी, अंशुल मिश्रा की जमानत जिला न्यायालय से खारिज : एक और आरोपी गिरफ्तार

बता दें कि मामले में एक लड़की जिसके की भूमिका सामने आई थी लेकिन उस पर कार्यवाही नही होने से यब सवाल खड़े किए जा रहे हैं। इतना ही नही सर्किट हाउस में आवंटन को लेके भी अभी सवाल उठाए जा रहे हैं।

अपराधियों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी : इन 32 लोगों के ऊपर SP ने जारी किया 10 हजार का इनाम

7 आरोपी गिरफ्तार, 1 फरार

सिविल लाइन थाना प्रभारी निरीक्षक हितेन्द्रनाथ शर्मा की मानें तो सर्किट हाउस रेप कांड में अब तक 7 गिरफ्तारियां हो चुकी है। जिसमे महंत सीताराम दास, विनोद पाण्डेय, संजय त्रिपाठी, अंशुल मिश्रा, तौफीक अंसारी, पप्पू शुक्ला सहित मोनू पयासी का नाम शामिल है। वहीं 1 आरोपी और धीरेन्द्र मिश्रा अभी भी फरार है। 

Powered by Blogger.