REWA : राजनिवास कांड के दों सह आरोपी संजय त्रिपाठी, अंशुल मिश्रा की जमानत जिला न्यायालय से खारिज : एक और आरोपी गिरफ्तार

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) रीवा। सर्किट हाउस रेप कांड की चर्चा इन दिनों जोरों शोरों से है जहां एक-एक करके आरोपियों का पर्दाफाश हो रहा है. अब बड़ा सवाल यह है कि धीरे-धीरे करके आरोपी को पकड़े जा रहे हैं लेकिन रूम अलॉट करवाने वाले पी.ए को आखिर पुलिस अभी तक क्यों नहीं पकड़ रही है.

तराई क्षेत्र में 6 जगहों पर चला जिला प्रशासन का बुलडोजर, 6 अपराधियों के मकानों को किया गया जमींदोज

सूत्रों की मानें तो वारदात वाली रात रविशंकर शुक्ला उर्फ पप्पू शुक्ला पुत्र श्रीनिवास शुक्ला (37) निवासी देवतालाब थाना लौर अपनी वैगन आर कार से जोन्ही स्थित संजय त्रिपाठी के फार्म हाउस तक छोड़ने गया था।

6 आरोपी गिरफ्तार, 2 फरार

सिविल लाइन थाना प्रभारी निरीक्षक हितेन्द्रनाथ शर्मा की मानें तो सर्किट हाउस रेप कांड में अब तक 6 गिरफ्तारियां हो चुकी है। जिसमे महंत सीताराम दास, विनोद पाण्डेय, संजय त्रिपाठी, अंशुल मिश्रा, तौफीक अंसारी सहित पप्पू शुक्ला का नाम शामिल है। वहीं 2 आरोपी मोनू मिश्रा और धीरेन्द्र मिश्रा अभी भी फरार है। चर्चा है कि एक आरोपी पुलिस थाने में आकर सरेंडर करने वाला है। वहीं बचा एक आरोपी जल्द पुलिस गिरफ्त में होगा।

बता दें कि इस रेप कांड मामले में महंत सीताराम का संरक्षण देने वाले हाल ही में विनोद पांडे को पहले गिरफ्तार किया गया, सीताराम महंत को गिरफ्तार किया गया जहां उसके बयान के आधार पर उस को संरक्षण देने वाले अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय त्रिपाठी और अंशुल  मिश्रा को भोपाल से गिरफ्तार किया गया. वहीं दूसरी ओर तौफीक अंसारी को भी गिरफ्तार किया गया जबकि दो आरोपी मोनू मिश्रा और धीरेंद्र मिश्रा अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

सिविल लाइन पुलिस ने राज निवास मे नाबालिग के साथ बलात्कार करने वाले आरोपी को संरक्षण देने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार। 

अपराधियों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी : इन 32 लोगों के ऊपर SP ने जारी किया 10 हजार का इनाम

दिनांक 29.03.22 को नाबालिक लड़की की रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की गई तो दौरान विवेचना दिनांक 28.03.2022 की रात को सर्किट हाउस में बाबा नाबालिक लड़की के साथ गलत काम करता है । घटना के बाद दिनांक 28 / 29.03.22 की दरमियानी रात को आरोपी रविशंकर शुक्ला उर्फ पप्पू शुक्ला पिता श्रीनिवास शुक्ला उम्र 37 वर्ष निवासी देवतालाब थाना लौर जिला रीवा हाल निवास साई नर्सिंग होम के बगल में बोदाबाग थाना विश्वविद्यालय द्वारा अपनी बैगनार कार से बाबा महंत सीताराम को सर्किट हाउस रीवा से  फार्म हाउस तक पहुँचाता है तथा बाबा को भगाने में सहयोग करता है । आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय रीवा में पेश किया गया जहां से न्यायालय ने आरोपी को जेल भेज दिया । 

जप्त मशरुका : एक वेगनार कार 

सराहनीय भूमिका : 

थाना प्रभारी सिविल लाइन हितेंद्रनाथ शर्मा व उनकी टीम , थाना प्रभारी हनुमना शैल यादव व उनकी टीम एवं सायबर सेल की महत्वपूर्ण भूमिका रही ।

यह भी पढ़े 

हवस के पुजारी महंत के दारू पार्टी का वीडियो वायरल : रेप करने से पहले की थी शराब पार्टी, कई सवालों के घेरे में कानून?








Powered by Blogger.