MP : बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर : TSSC में निकलेगी 5 हजार पदों पर भर्ती : ड्रोन टेक्नोलॉजी और iOT पर मिलेंगे प्रशिक्षण

मध्यप्रदेश में अगले एक साल में दूरसंचार कंपनियों में करीब 5 हजार जॉब क्रिएट होंगे। इसके लिए एक्सपर्ट लोगों की जरूरत होगी। कौशल विकास संस्थान टेलीकॉम सेक्टर स्किल काउंसिल (TSSC) जॉब के लिए ट्रेनिंग देगा। टीएसएससी के सीईओ अरविंद बाली ने गुरुवार को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान यह जानकारी दी।

MP BOARD EXAM 2022 : 10वीं-12वीं बोर्ड के नतीजे 29 अप्रैल को होंगे घोषित : ऐसे चेक करें अपना Results

काउंसिल ड्रोन टेक्नोलॉजी और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) पर स्टूडेंट्स को प्रशिक्षित करेगा। प्रदेश में 80 से अधिक प्रशिक्षण केंद्र पर टेक्नोलॉजी और साथ ही टेक्निकल क्षेत्रों में कौशल प्रदान कराया जा रहा है। इसका फायदा उन बच्चों को ज्यादा होगा, जो तकनीकी रूप से ज्यादा सक्षम नहीं हैं। TSSC ऐसे बच्चों को प्रशिक्षण देकर उन्हें अच्छे जॉब पाने में मदद करेगी।

दोस्ती को समझ बैठा प्यार : छात्रा और उसके दोस्त को युवक ने कार से कुचलकर की हत्या की कोशिश

मध्य प्रदेश में टीएसएससी के विभिन्न पाठ्यक्रमों के तहत सभी 80 से अधिक प्रशिक्षण केंद्रों में 7 हजार कैंडिडेट्स को प्रशिक्षित किए जाने की उम्मीद है। देश में 5जी, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग जैसी टेक्नोलॉजी के आगे बढ़ने के साथ कुशल कार्यबल की मांग है। यह निकाय इन जरूरतों के मुताबिक इस राज्य में विशेषज्ञ कौशल केंद्रों के साथ ही इन प्रशिक्षण केंद्रों की स्थापना करने की तैयारी में है।

सतना की नाबालिग FB फ्रेंड बना रही थी शादी का दबाव, युवक ने फांसी लगाकर दी जान : सिर्फ FB फ्रेंड थे रियल लाइफ में कभी मिले नहीं

टेलिकॉम सेक्टर स्किल काउंसिल के बारे में

सोसाइटीज रजिस्ट्रेशन एक्ट 1860 के तहत स्थापित टेलिकॉम सेक्टर स्किल काउंसिल उद्योग की अगुवाई वाला शीर्ष संस्थान है। यह इलेक्ट्रॉनिक्स एवं दूरसंचार प्रौद्योगिकी मंत्रालय और दूरसंचार विभाग के तत्वावधान में सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) और नेशनल स्किल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (एनएसडीसी) ने मिलकर स्थापित किया है। टीएसएससी ने पहले ही 10 लाख से अधिक लोगों को प्रशिक्षित किया है। देशभर में 1000 से अधिक प्रशिक्षण केंद्रों के साथ 600 से अधिक प्रशिक्षण साझेदार हैं।

Powered by Blogger.