REWA : अवैध क्रेशर संचालकों पर खनिज विभाग मेहरबान : चोराहटा में दो ग्रामीण युवकों को लगी गोली,गंभीर रूप से SGMH में भर्ती

रीवा में खनिज विभाग की मेहरबानी के चलते कई क्रेशर अवैध रूप से संचालित किए जा रहे हैं। इन क्रेशरों के चलते आसपास के ग्रामीणों का जीना मुहाल है और वह धूल भरी जिंदगी गुजारने को मजबूर हो रहे हैं। ऐसे में जब ग्रामीणों ने कृषक के खिलाफ आवाज उठाई तो उन्हें गोलियों का सामना करना पड़ा।

जानिए किसके इशारे पर हिस्ट्रीशीटर को एलॉट हुआ था कमरा, क्या था मामा भांजे का रोल

दरअसल क्रेशर संचालक द्वारा ग्रामीणों पर गोली चलाने का यह मामला रीवा के चोरहटा थाना क्षेत्र का है। यहां बैजनाथ गांव में संचालित क्रेशर के संचालक और ग्रामीणों के बीच कल रात विवाद हो गया इस दौरान क्रेशर संचालक ने ग्रामीणों पर फायरिंग कर दी और बंदूक से निकली हुई गोली दो ग्रामीणों को जा लगी। घटना में गोली लगने से घायल हुए ग्रामीणों को उपचार के लिए संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है वही गोली चालन की इस घटना को अंजाम देने के बाद क्रेशर संचालक फरार बताया जा रहा है।

युवकों द्वारा बर्थडे सेलिब्रेट पर ताबड़तोड़ फायरिंग का वीडियो वायरल, अवैध हथियार का गढ़ बनता जा रहा रीवा

घटना के सम्बंध मैं मिली जानकारी के मुताबिक बीती रात क्रेशर की आवाज एवं प्रदूषण से परेशान ग्रामीण क्रेशर मशीन बंद कराने पहुंचे थे। ग्रामीणों के विरोध करने पर क्रेशर संचालक ने उनसे विवाद करना शुरू कर दिया। इस दौरान बात इतनी बढ़ी की क्रेशर संचालक ने आवेश में आकर बंदूक निकाली और ग्रामीणों पर फायर कर दिया। फायरिंग की इस घटना में बैजनाथ गांव के निवासी 22 वर्षीय सुभाष कुशवाहा एवं कल्याण सिंह परिहार नाम के दो युवकों को गोली लगी है।

हिंदुस्तान के खिलाफ जहर उगलने वाले कव्वाल नवाज शरीफ को न्यायालय में पेशकर भेजा जेल

गोली चालन की घटना के बाद दोनों घायलों को उपचार के लिए संजय गांधी अस्पताल भेजा गया है। घटना के बाद पूरे गांव में तनाव की स्थिति निर्मित है। जानकारी मिलने पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा जहां स्थिति को नियंत्रण करते हुए अब कार्यवाही की बात कही जा रही है।

अवैध क्रेशरों पर खनिज विभाग मेहरबान

बता दें कि चोरहटा थाना अंतर्गत दर्जनों अवैध क्रेशर खनिज विभाग की मेहरबानी से चल रहे है। हालांकि तत्कालीन कलेक्टर इलैया राजा टी के निर्देशन पर कुछ समय पूर्व ऐसे क्रेशरों पर कार्रवाई की गई थी लेकिन एक बार फिर खनिज विभाग उन पर मेहरबान हुआ जिसके बाद आए दिन गांव में विवाद की स्थिति निर्मित रहती है। बताया जा रहा है कि आक्रोशित ग्रामीणों से देर रात विवाद होने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची है। और पूरे मामले की जांच कर रही हैए घटना के बाद अब बड़ा सवाल यह है कि इस घटना के बाद भी क्या संबंधित विभाग अपनी कुंम्भ करणीय नींद से जागेगा या नही।

Powered by Blogger.