REWA : बैजनाथ गांव का मामला : अल्ट्राटेक सीमेंट कंपनी के हेल्पर की पत्थर पटकर हत्या, आरोपियों के विरुद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज

रीवा जिले के चोरहटा थाना अंतर्गत सोनरा माइंस चौराहा के पास चार दिन पहले अल्ट्राटेक सीमेंट कंपनी के हेल्पर की हत्या करने वाले दोनों आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। हालांकि साइबर सेल की मदद से नौबस्ता चौकी पुलिस आरोपियों की लोकेशन ट्रेस कर रही है। लेकिन सफलता नहीं मिली है।

12वीं फेल सनकी बन गया महंत, अधिकारियों से संबंध बनाकर जुर्म की दुनिया में रखा कदम, साधु पर चलवा दी गोलियां : पढ़िए इस अपराधी के कुकर्मों की कहानियां

पुलिस का दावा है कि दोनों आरोपी चिहिन्त है। साथ ही वारदात वाले दिन फरार चल रहे है। दोनों के खिलाफ नौबस्ता चौकी के अपराध क्रमांक 034/22 आईपीसी की धारा 302,34 का प्रकरण कायम है।

ये है पूरा मामला

बता दें कि फरियादी मंगलेश सिंह तिवारी निवासी बैजनाथ गांव 19 अप्रैल की शाम नौबस्ता चौकी रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचा। दावा किया कि वह अपने गांव बैजनाथ से जेपी नगर स्थित यूनियन बैंक के ATM जा रहा था। जैसे ही शाम करीब 6.10 बजे सोनरा माइंस चौराहा के पास पहुंचा ही था। जहां देखा कि रोहणी सिंह भदौरिया निवासी सोनरा अरुणेन्द्र उर्फ अरुण मिश्रा निवासी बैजनाथ के मुंह में एक तमाचा मारे। तमाचा लगते ही अरुणेन्द्र मिश्रा जमीन पर गिर गए। इसी बीच रोहणी सिंह का साथी निखिल सिंह परिहार पत्थर उठाकर अरुणेन्द्र मिश्रा के सिर और सीने में पटक दिया।

बाहुबली संजय त्रिपाठी के अधूरे अवैध कॉम्प्लेक्स को निगम ने किया जमींदोज : अबतक 7 आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

जमीन नपवाने की दी सजा

हत्या करने के बाद दोनों आरोपी बोल रहे थे कि तू बहुत नेता गिरी करता है। अल्ट्राटेक कम्पनी की ओर से हम लोगों की जमीन नपवाता है। तभी मुझकों सामने देखते ही दोनों अपनी बाइक से अल्ट्राटेक कम्पनी की तरफ चले गए। मैं तुरंत भागकर अरुणेन्द्र मिश्रा के पास पहुंच। देखा कि अरुणेन्द्र के सिर में काफी चोट लगी है, खून बह रहा है। मुंह के सामने हाथ फेरा तो उनकी सांस नहीं चल रही थी। वे खत्म हो गये थे।

रेपिस्ट दूल्हा गिरफ्तार : प्रेमिका से शादी का वादा कर कई बार बनाये संबंध, उधर दूसरी के साथ ले रहा था सात जन्मों के वादे, दुष्कर्म का मामला दर्ज

तीन अन्य लोगों ने दी देखा था घटनाक्रम

पुलिस सूत्रों का दावा है कि हत्या के समय फरियादी मंगलेश सिंह तिवारी के साथ राम प्रभाव केवट, चन्द्रमणी सिंह और लोकेश सिंह ने पूरा घटनाक्रम देखा है। जिसके बाद पुलिस ने बयान लेते हुए रोहणी सिंह भदौरिया और निखिल सिंह परिहार दोनों निवासी सोनरा के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर संभावित ठिकानों में दबिश दी है।

नेटवर्क मार्केटिंग के नाम पर ASort कंपनी द्वारा की गई 26000 की ठगी : छात्रा ने SP से लगाई गुहार, युवकों की तलाश जारी

कलेक्टर और एसपी पहुंचे अल्ट्राटेक सीमेंट बेला प्लांट

हत्या के तीसरे दिन कलेक्टर मनोज पुष्प और एसपी नवनीत भसीन ने अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट बेला पहुंचे। जहां खदानों का निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि खदानों में सुरक्षा उपायों का पूरी तरह से पालन करते हुए उत्खनन करें। प्रबंधन मजदूरों और कर्मचारियों के हितों का पूरा ध्यान रखें। सीमेंट प्लांट में दुर्घटनाओं को रोकने के लिए उचित प्रबंध करें। पत्थर उत्खनन के लिए जिन किसानों की जमीनों का अधिग्रहण किया गया है उनके हितों का ध्यान रखें।

Powered by Blogger.