MP : ह्यूमन ट्रैफिकिंग में फसी नाबालिक : इंस्टाग्राम पर युवक से हुई दोस्ती,प्यार के जाल में फंसी लड़की गई मिलने, बेचने की फिराक में था आरोपी


इंदौर की दसवीं की छात्रा, मानव तस्करों के जाल में फंस गई। आरोपी ने इंस्टाग्राम पर दोस्ती कर उसकी खूब तारीफ की और मिलने बांसवाड़ा बुलाया। आरोपी की बातों में आकर नाबालिग इंदौर से 225 किलोमीटर दूर बांसवाड़ा राजस्थान जा पहुंची। आरोपी ने नाबालिग को घर में बंधक बना लिया। वह उसे बेचने की फिराक में था। सौदा होने से पहले पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस नाबालिग को बरामद कर इंदौर ले आई।


मोबाइल लोकेशन के आधार पर पहुंची पुलिस

विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार 16 वर्षीय छात्रा इंदौर में अपनी बहन और जीजा के साथ रहती है। पिता की मौत के बाद वह पढ़ाई के साथ-साथ बेबी सिटर का काम भी करती है। वह 10 अप्रैल को बिना बताए घर से कहीं चली गई थी। उसी रात परिवार ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर नाबालिग की तलाश की। उसकी लोकेशन राजस्थान के बांसवाड़ा में मिली। पुलिस ने बांसवाड़ा में दबिश दी। नाबालिग को लाकर 17 अप्रैल को परिजनों को सौंप दिया।

इंस्टाग्राम पर हुई थी दोस्ती
आरोपी नारायण उर्फ अजय कीर (19) ने पुलिस को बताया कि 6 माह पहले इंस्टाग्राम के माध्यम से नाबालिग से उसकी दोस्ती हुई थी। वह नाबालिग की हमेशा तारीफ किया करता था। कहता था- तुम बहुत खूबसूरत हो। इसके चलते लड़की उसके प्रेम जाल में फंस गई। आरोपी ने उसे अपने पास बांसवाड़ा बुला लिया। अजय लड़की को बेचने की फिराक में था।


1500 रुपए लेकर निकली थी घर से
परिवार ने बताया कि नाबालिग घर से 1500 रुपए लेकर निकली है। पुलिस ने इलाके के कई सीसीटीवी खंगाले, जिसमें नाबालिग पहले विजय नगर चौराहे तक आई और उसकी आखिरी लोकेशन गीता भवन स्थित एआईसीटीएसएल बस स्टैंड मिली। बस स्टैंड पर वह राजस्थान की बस में बैठते हुए दिखाई दी।

पुलिस पहुंची तो छत से कूद कर भागा
आरोपी अजय के मोबाइल की आखिरी लोकेशन बांसवाड़ा के गांव परतापुर में मिली थी। 16 अप्रैल को पुलिस टीम ने उसका दरवाजा खटखटाया तो वह छत से कूदकर भाग निकला। इलाके में कई कंजर गिरोह भी रहते हैं। इस कारण से पुलिस को कई घरों की तलाशी लेनी पड़ी। नाबालिग छात्रा को आरोपी की मां और बहन के साथ दूसरे घर से बरामद किया गया। यहां नाबालिग को निगरानी में रखा जा गया था।


शादी करने के नाम पर बुलाया
पुलिस के अनुसार राजस्थान में अमूमन शादी के लिए लड़कियां नहीं मिलती हैं। इस कारण से आरोपी ने उसे बहला कर शादी के लिए बुलाया था। वहां उसे बंधक बना लिया। आरोपी उसे बेचने की फिराक में था। पुलिस अब इस एंगल पर भी जांच कर रही है।
Powered by Blogger.